डॉ. कलाम का आखिरी दिन कुछ ऐसा बीता

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम के पूर्व सहायक सृजनपाल सिंह ने फेसबुक पर ये पोस्ट डाली है, जिसमें उन्होंने कलाम साहब के साथ बिताए अंतिम दिन और पलों को याद किया है। वह पूर्व राष्ट्रपति के साथ आईआईएम शिलांग गए थे। पढ़िए इस पोस्ट के कुछ अंश..

– मुझे हवा में होने वाली हलचल से बहुत डर लगता है। शिलांग जाने वाला प्लेन भी जब डगमग करने लगा था तो मेरी हालत खराब होने लगी, कलाम सर ने मुझे देखा और खिड़की में लगे पल्ले को नीचे करके कहा “अब तुम्हें डर नहीं दिखेगा।”

– आईआईएम शिलांग में कलाम सर एक लेक्चर देने जा रहे थे, जिसमें वह पृथ्वी को बेहतर जगह बनाने की बात करने वाले थे। गुरदासपुर हमले के बारे में सुनकर उन्होंने कहा कि लगता है इंसानों की बनाई ताकत भी धरती को प्रदूषण जितना ही नुकसान पहुंचा रही है। ऐसा रहा तो हम सबको धरती छोड़नी पड़ जाएगी।

– डॉक्टर कलाम, संसद में पड़ने वाले अवरोध से भी नाराज़ थे। उन्होंने मुझसे कहा कि एक ‘सरप्राइज़ असाइमेंट’ तैयार करो जो आईआईएम के बच्चों को लेक्चर के अंत में दिया जाएगा। बच्चों से तीन नायाब तरीके पूछने चाहिए जिससे संसद ज्यादा उपयोगी और कारगर तरीके से चल सके। लेकिन फिर उन्होंने कहा “बच्चे इसका जवाब कैसे दे पाएंगे जब इसका कोई हल मेरे पास ही नहीं है।”

– उनकी नम्रता का एक और उदाहरण देखने को मिला। हमारे साथ 6-7 गाड़ियों का जत्था चल रहा था। मैं और डॉ कलाम दूसरी कार में थे। हमारे आगे एक खुली जिप्सी में तीन जवान तैनात थे जिसमें से एक बंदूक के साथ खड़ा हुआ था। रोड जर्नी के एक घंटे बीत जाने के बाद डॉ कलाम ने कहा “वो खड़ा क्यों है? ऐसे तो थक जाएगा। ये तो सज़ा जैसा है।” तमाम कोशिशों के बावजूद जब उस जवान को बैठ जाने का संदेश कलाम नहीं भेज पाए तो आईआईएम पहुंचकर कलाम साहब ने उस जवान को शुक्रिया अदा किया जिसे सुनकर उस जवान के पास कहने के लिए ज्यादा कुछ बचा नहीं था, उसने कहा “सर आपके लिए तो छह घंटे भी खड़े रहेंगे।”

– कलाम मुझे funny guy कहकर बुलाते थे, बस हर बार इस शब्द का मतलब बदल जाता था। कभी इसका मतलब शाबाशी हो सकता था तो कभी समझिए की कुछ गड़बड़ हो गई है। मैंने उनका माइक ठीक किया और उन्होंने मुझसे कहा “funny guy,सब ठीक है?” मैंने हंसते हुए कहा हां। बस ये उनके आखिरी शब्द थे। इसके बाद उन्होंने कुछ दो मिनट भाषण दिया जिसके बाद एक लंबी खामोशी छा गई। मैंने उनकी तरफ देखा, वो गिर गए थे।

(साभार  – NDTV)