श्रीदेव सुमन के शहीदी दिवस पर हुए कई कार्यक्रम, महान हस्ती को याद किया गया

श्री मारवाड़ कन्या पाठशाला इंटर कॉलेज रुड़की छावनी में श्री देव सुमन का शहीदी दिवस मनाया गया। इस मौके पर प्रिंसिपल ने श्री देव सुमन के व्यक्तित्व और कृतित्व पर विचार रखे। श्रीदेव सुमन का निधन 25 जुलाई 1944 को हुआ था।

उन्होंने उनके सामाजिक और टिहरी रियासत के प्रति आक्रोश को याद किया। उन्होंने कहा कि इस अमर शहीद को युगों-युगों तक याद किया जाएगा। उन्होंने सामंतशाही के खिलाफ आवाज उठाकर टिहरी की जनता के अन्य शैक्षिक और सांस्कृतिक उन्नति के लिए कार्य किए।

इसी के विरोध में उन्हें करीब 209 दिन टिहरी जेल में रखा गया और वहीं से उनका शरीर शव के रूप में बाहर लाया गया। इन्हें याद रखने को राज्य में कई विद्यालयों का नाम इन्हें समर्पित किया गया।
इस मौके पर कुमारी शिवानी, कुमारी प्रीति और कुमारी खुशी ने श्री देव सुमन पर आधारित कविता सुनाई। संचालन कक्षा 12 की छात्रा कुमारी कीर्ति ने किया।

इसके अलावा राज्यभर में अलग-अलग जगहों पर श्रीदेव सुमन को याद करते हुए कई कार्यक्रम हुए।