टिहरी में बीती रात फिर फटा बादल, कई मकान ध्वस्त, कम से कम एक की मौत

टिहरी गढ़वाल जिले में घनसाली ब्लॉक के जसपुर गांव में बुधवार रात मूसलाधार बारिश के बीच बादल फट गया। बादल फटने से दो मकान ध्वस्त हो गए और करीब दर्जनभर मकानों में मलबा घुस गया। मलबे में दबने से एक ग्रामीण की मौत भी हो गई, जबकि सात अन्य लोग घायल हैं।

बादल फटने की इस घटना में दो गोशाला भी ध्वस्त हुईं, जिसमें सात मवेशी भी मर गए। आधी रात के बाद करीब साढ़े तीन बजे गांव के ऊपर पहाड़ी में बादल फटा। जोरदार आवाज के साथ ही गांव में तरफ पानी बहने लगा। इसी बीच दहशत में ग्रामीण भी घरों से बाहर निकल आए।

इस दौरान 55 वर्षीय ग्रामीण शेर सिंह पुत्र अतल सिंह घर से बाहर निकलकर शोर मचाकर लोगों को बाहर निकलने को कह रहे थे, तभी वे पानी के बहाव के साथ आ रहे मलबे व पत्थरों की चपेट में आकर दब गए। साथ ही करीब सात ग्रामीण भी मलबे की चपेट में आने से घायल हुए हैं।

देखते ही देखते दो मकानों के निचले हिस्से के कमरों में मलबा घुस गया और कई कमरे ध्वस्त हो गए। अन्य घरों में भी मलबा घुस गया। खबर मिलने पर टिहरी के जिलाधिकारी युगल किशोर पंत, पुलिस अधीक्षक मो. मोहसीन के साथ ही आपदा प्रबंधन की टीम सुबह गांव पहुंच गई।

प्रशासन की टीम भी काफी देर तक श्रीकोट बरसाती नाले में उफान के कारण रास्ते में भी फंसी रही। काफी मशक्कत के बाद मलबे से शेर सिंह का शव बरामद कर लिया गया है।