स्कूल संचालक को टीचर से मुहब्बत पड़ी भारी, पहुंचा हवालात

कहते हैं इश्क छुपाए नहीं छुपता और प्यार में पड़ा व्यक्ति दुनिया की परवाह नहीं करता। रुड़की में एक स्कूल संचालक के साथ भी ऐसा ही हुआ। आशिक मिजाज स्कूल संचालक ने अपने ही स्कूल की एक टीचर को मोबाइल पर फोन करके कहा, ‘प्लीज स्कूल छोड़कर मत जाओ, मैं तुमसे प्यार करता हूं’। लेकिन स्कूल संचालक महोदय पर उनका यह इजहार-ए-मुहब्बत भारी पड़ गया।

टीचर के पति ने कॉल रिकॉर्ड कर ली और पुलिस को सुना दी। गंगनहर पुलिस ने आरोपी को कोतवाली में बुलाकर हवालात में डाल दिया। सोमवार शाम तक दोनों पक्ष सुलहनामे में जुटे रहे। शहर की कॉलोनी में आठवीं तक का स्कूल चलता है। परिवार की आमदनी में हाथ बंटाने के लिए पड़ोस की एक महिला स्कूल में कई साल से पढ़ा रही थी। टीचर के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से स्कूल संचालक उस पर डोरे डाल रहा था। तंग आकर उसने पिछले हफ्ते स्कूल छोड़ दिया।

इस पर स्कूल संचालक ने मोबाइल पर फोन करना शुरू कर दिया। टीचर ने अपने पति को आपबीती बताई। इसके बाद स्कूल संचालक का फोन आने पर पूरी बातचीत रिकॉर्ड कर ली गई। सोमवार को टीचर का पति कुछ जिम्मेदार लोगों को साथ लेकर गंगनहर कोतवाली पहुंचा। पुलिस ने आरोपी और उसके परिवारवालों को भी बुला लिया। पूछताछ में सारे आरोप नकारने के बाद जब मोबाइल पर रिकॉर्डिंग सुनाई तो स्कूल संचालक साहब का इश्क का भूत गायब हो गया।

पुलिस ने फटकार लगाते हुए उसे हवालात में डाल दिया। इसके बाद आरोपी के परिजन टीचर के पति से माफी मांगने लगे। शाम तक आरोपी पक्ष सुलह कर मामला निपटाने में लगा हुआ था। कोतवाली प्रभारी दिनेश भंडारी ने बताया कि टीचर के पति की शिकायत पर आरोपी को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। शिकायत मिलने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।