आज IIT रुड़की से निकाले गए छात्रों के मामले की सुनवाई करेगा नैनीताल हाईकोर्ट

नैनीताल हाईकोर्ट आईआईटी रुड़की से निकाले गए 72 छात्रों की याचिकाओं पर बुधवार को आगे की सुनवाई करेगा। आईआईटी रुड़की के एक छात्र सत्यप्रकाश व अन्य ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा था कि 15 जून को संस्थान द्वारा 73 छात्रों को निष्कासित कर दिया गया। सोमवार को हुई सुनवाई में कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए 22 जुलाई की तारीख तय की थी।

याचिकर्ताओं का कहना था कि अध्यादेश 2014 के पैरा-33 के अनुसार केवल उन्हीं छात्रों को संस्थान से बाहर किया जा सकता है जो पहले साल के अंत में निर्धारित अर्न क्रेडिट व सीजीपीए लाने में असफल रहते हैं। याचिकाकर्ताओं का कहना था कि उनका अर्न क्रेडिट निर्धारित 22 अंक से अधिक है, इसलिए उनका एडमिशन कैंसिल नहीं किया जा सकता है।

सोमवार को मामले की सुनवाई न्यायमूर्ति आलोक सिंह की एकल पीठ में हुई। सूत्रों के अनुसार आईआईटी रुड़की द्वारा इस मामले में हलफनामा तैयार कर लिया गया है। इस हलफनामे में नियमों का हवाला देते हुए निष्कासन की कार्रवाई को सही ठहराया गया है।