मंत्री का निजी सचिव बनकर ठगे 21 लाख, बंधक बनाकर किया रेप, MMS भी बनाया

खुद को उत्तर प्रदेश के एक मंत्री का निजी सचिव बताकर उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून में एक स्कूल संचालिका से 21 लाख रुपये ठगने और रेप का मामला सामने आया है। यही नहीं शख्स ने स्कूल संचालिका रेप का वीडियो भी बना लिया था, जिसके हथियार बनाकर वह पीड़ित को ब्लैकमेल कर रहा था।

आरोपी रतन लाल शर्मा सहित पांच लोगों के खिलाफ शनिवार को रिपोर्ट दर्ज की गई है। हुसैनगंज पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। एसओ हुसैनगंज शिवशंकर सिंह के मुताबिक मुकदमा दर्ज होने के बाद अब रतन लाल शर्मा के खिलाफ सुबूत इकट्ठा किये जा रहे हैं।

पर्याप्त सुबूत मिलते ही रतन लाल को गिरफ्तार किया जाएगा। गौरतलब है कि शुक्रवार को स्कूल संचालिका ने एसएसपी के शिकायत प्रकोष्ठ प्रभारी अतुल अग्निहोत्री को सीडी की एक कॉपी सौंपी।

पीड़िता ने जौनपुर निवासी रतन लाल शर्मा पर अपने एनजीओ को प्रोजेक्ट दिलाने के नाम पर लाखों रुपये ठगने का आरोप लगाया है। शर्मा पर बंधक बनाकर रेप करने व वीडियो बनाने का भी आरोप लगाया गया है।

मुकदमा दर्ज होने के बाद रतनलाल शर्मा के फ्लैट में बंधक बनाकर गैंगरेप की शिकार और भी कई महिलाएं सामने आ सकती हैं। पुलिस रतन लाल शर्मा के फ्लैट में लगे सीसीटीवी कैमरों का डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर (डीवीआर) अपने कब्जे में लेकर जांच पड़ताल करेगी।

शर्मा की करतूत की शिकायत होते ही ठगी के शिकार कई और लोग सामने आए। हालांकि, उनकी समस्या सुनने के बजाए हुसैनगंज पुलिस ने उन्हें फिलहाल तो टरका दिया। एक युवक को शर्मा ने नौकरी का झांसा देकर साढ़े तीन लाख रुपये वसूले थे।

इसके अलावा उत्तराखंड के अलग-अलग जिलों से कई लोगों ने भी ठगी की जानकारी दी है। करीब दस पीड़ित अब तक सामने आ चुके हैं जिनसे शर्मा ने तीन करोड़ से ज्यादा रकम ठगी है। अधिकारियों ने इन सभी मामलों में रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।