शर्म करो सरकार! डेढ़ साल से रोकी हुई है मजबूर बुजुर्ग महिला की पेंशन

अल्मोड़ा।… हवा में चल रही सरकारी योजनाएं लोगों को किस हद बेबस और लाचार बना रही हैं, इसका ताजा उदाहरण सोमेश्वर के घन्याल गांव की 70 वर्षीय महिला डिगरी देवी हैं। जिन्हें पिछले डेढ़ साल से समाज कल्याण विभाग ने पेंशन उपलब्ध नहीं कराई है। मजबूरी में आर्थिक रूप से कमजोर डिगरी देवी लकड़ी बीनकर गुजर-बसर करने को मजबूर है।

तहसील के घन्याल गांव निवासी डिगरी देवी पत्‍‌नी स्व. तिलराम आर्थिक रूप से काफी कमजोर है। उसका मकान भी बहुत बुरी हालत में है। उम्रदराज होने के कारण डिगरी देवी के पास पेंशन का सहारा था। लेकिन समाज कल्याण विभाग ने पिछले डेढ़ साल से डिगरी देवी को पेंशन उपलब्ध नहीं कराई। जिसकी वजह से उन्नें खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। डिगरी देवी ने पिछले डेढ़ साल में पेंशन के लिए कई बार समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों के चक्कर काटे, लेकिन नतीजा सिफर ही रहा।

पिछले साल सात जुलाई को डिगरी देवी ने अपनी व्यथा बीडीसी बैठक में भी रखी। लेकिन पेंशन की सुध न तो विभाग के अफसरों ने ली और न ही जनप्रतिनिधियों ने। डिगरी देवी के सामने रोजी-रोटी का संकट पैदा हुआ तो उसे बुढ़ापे में लकड़ी बीनकर अपना गुजर बसर करना पड़ रहा है। लेकिन इसके बाद भी समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों की नींद नहीं टूट रही है।