रानीखेत में तैनात जवान की पत्नी के साथ यूपी में गैंगरेप, महिला गायब

उत्तर प्रदेश के चंदौली जले के चंदासी मंडी के करीब सड़क किनारे बेहोश पड़े 35 वर्षीय एक व्यक्ति ने होश में आने के बाद खुद को नगालैंड के कोहिमा निवासी विक्रेतो बताया। उसने बताया कि खुद को पुलिसकर्मी बताने वाले कुछ युवकों ने उसकी पत्नी के साथ दुष्कर्म किया।

जानकारी के बाद एएसपी व सीओ सदर अस्पताल पहुंचकर उसका हाल जाना और उसका बयान दर्ज किया। घायल विक्रेतो (35) का कहना है कि वह नगा रेजिमेंट का जवान है। उसकी तैनाती उत्तराखंड में कुमाऊं अंचल के रानीखेत में हुई है। कुछ दिन पहले वह छुट्टी लेकर घर गया था। छुट्टी बीतने के बाद वह अपनी पत्नी संग रानीखेत लौट रहा था। ट्रेन से मुगलसराय पहुंचने के बाद दंपति ऑटो पर सवार होकर वाराणसी के लिए निकला।

विक्रेतो ने बताया कि चंदासी कोल मंडी में एक हैंडपंप पर उसकी पत्नी पानी पीने के लिए उतरी। वहां मौजूद दो युवकों ने उसकी पत्नी के साथ छेड़खानी की। इस पर उसकी युवकों संग झड़प भी हुई। इसके बाद दोनों आगे बढ़े तो बाइक सवार पांच युवकों ने उन्हें रोक लिया। और खुद को पुलिस का सिपाही बताते हुए पूछताछ के लिए अपने साथ चलने को कहा।

विक्रेतो के मुताबिक, पांचों युवक उसे और उसकी पत्नी को लेकर मंडी स्थित एक कमरे में पहुंचे। युवकों ने जवान की पत्नी संग गैंगरेप किया और विरोध करने पर जवान विक्रेतो की बुरी तरह पिटाई की। जब उसे होश आया तो खुद को जिला अस्पताल में भर्ती पाया।

उसने बताया कि उसकी पत्नी का अता-पता नहीं है। खबर मिलने पर एएसपी जियालाल और सीओ सदर प्रमोद कुमार यादव जिला अस्पताल पहुंचे और विक्रेतो से गहन पूछताछ की।