चकराता : तेज बारिश में उफन रहे नाले में तीन लोगों की बहने से मौत

चकराता।… देहरादून जिले के कालसी ब्लॉक के सराड़ी गांव में मंदिर से लौट रही दो सगी बहनों सहित तीन लोगों की बरसाती नाले में डूबने से मौत हो गई। बारिश का कारण नाला उफान पर है और रास्ते बंद होने के चलते बचाव दल मौके पर नहीं पहुंच पाया।

स्थानीय लोगों ने रेस्क्यू अभियान चलाकर कर तीनों के शव निकाले। गुरुवार को जातरा पर्व पर क्षेत्र के सैंकड़ों ग्रामीण सिमोग मंदिर में शिलगुर, विजट व चुडू देवताओं के दर्शनों के लिए जुटे थे। दोपहर बाद लोगों के घर लौटने का सिलसिला शुरू हुआ।

शाम करीब चार बजे सराड़ी खड्ड पार करते वक्त 35 वर्षीय धन्ना पुत्र गेमू, 25 वर्षीय गुन्नी देवी पत्नी धन्ना, कम्मो देवी (30 वर्ष) पत्नी पङचया मलबे और पानी के साथ बह गईं। तीनों सराड़ी गांव के ही रहने वाले हैं। उनको बहता देख अन्य ग्रामीणों ने उन्हें बचाने की कोशिश की, लेकिन तेज बहाव और मलबे की चपेट में आने से तीनों गुम हो गए।

बहने वालों में गुन्नी देवी व कम्मो सगी बहनें हैं, उनका मायका क्षेत्र के ही रुपऊ गांव में है। ग्रामीणों ने घटना की खबर पुलिस को दी। रास्ते बंद होने से बचाव दल मौके पर नहीं पहुंच पाया तो ग्रामीणों ने खुद ही रेस्क्यू अभियान चलाकर तीनों के शव बाहर निकाले।

तहसीलदार केडी जोशी के अनुसार मौके पर तहसील की टीम भेजी जा रही है।