रमजान का पाक महीना जैसे-जैसे बीत रहा है, ईद की तैयारियां जोर पकड़ने लगी हैं। खरीदारी को लेकर बाजार में बढ़ी चहलकदमी से बाजारों की रौनक देखते ही बनती है। रेडीमेड कपड़ों से लेकर श्रृंगार संबंधी सामानों और जूते-चप्पलों की दुकानों में भी भारी भीड़ उमड़ रही है।

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर में सुबह से लेकर देर शाम तक शहर का चौक बाजार एवं चूड़ी वाली गली तथा लाला बाजार में खरीदारी के लिए उमड़ी भीड़ की चहलपहल बनी रहती है।

रमजान का पर्व इबादत एवं गुनाहों को माफ कराने वाला है। इस माह के तीसों दिन रोजा रखने के बाद ईद का पर्व मनाया जाता है। इस खुशियां भरे पर्व में बच्चों से लेकर बूढ़े तक नए कपड़े पहनते हैं।

eid_shoping

जैसे-जैसे पाक महीना रमजान बीत रहा है, खरीदारी के लिए मुस्लिम समुदाय के लोगों ने जोर-शोर से तैयारियां शुरू कर दी हैं। बाजार में विभिन्न प्रकार के कपड़े महिलाओं के आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। वहीं रेडीमेड कपड़ों में भी युवती एवं युवतियों के लिए विभिन्न प्रकार की दुकानें सजी हैं, जो युवाओं को आकर्षित कर रही हैं।

महिलाओं के श्रृंगार से संबधित समानों के लिए प्रसिद्ध चूड़ी वाली गली की छटा शाम को बिजली की रोशनी में देखते ही बनती है। श्रृंगार की दुकानों में नए-नए आभूषण भी महिलाओं को लुभा रहे हैं।

eid_shoping1

गृहणी सबीना खातून ने बताया कि उन्होंने तीन हजार रुपये की खरीदारी की है, उन्हें एक-दो दिन और बाजार आना पड़ सकता है।

दुकानदार हाशिम रहमान ने बताया कि इन सब समान की खरीदारी के लिए ग्रमीण अंचलों से भी बड़ी संख्या में प्रतिदिन लोग शहर आ रहे हैं, जिससे चौक बाजार, चूड़ी वाली गली एवं लाला बाजार में काफी चहल पहल है।