केदारनाथ में बनाई जा रही ब्रह्म वाटिका, सुरक्षा के लिए तैनात रहेगी पुलिस की टीम

केदारपुरी के बेस कैंप में रुद्रप्रयाग पुलिस द्वारा ब्रह्म वाटिका तैयार की जा रही है। इसमें देहरादून से विशेष रूप से मंगवाया गया रुद्राक्ष का पौधा धार्मिक अनुष्ठान के साथ रोपा गया है। केदारनाथ के ऊंचाई वाले क्षेत्रों से लाई गई विशेष वन संपत्तियां भी यहां पर रोपी जा रही हैं। वाटिका की सुरक्षा के लिए उसकी चाहरदीवारी भी तैयार की जा रही है।

यूं तो 11,500 फीट की ऊंचाई और साल में करीब 6 महीने बर्फ से ढके होने के कारण केदारनाथ केदारपुरी में बड़ी वन संपत्तियां देखने को नहीं मिलती। महज छोटी-छोटी झाड़ियां और गर्मियों के सीजन में निकलने वाली मखमली घास ही यहां पर है। लेकिन इस बार केदारपुरी में एक वाटिका तैयार करने की कवायद रुद्रप्रयाग पुलिस ने शुरू की है।

केदारनाथ धाम से करीब एक किलोमीटर पहले बेस कैंप के पास यह वाटिका तैयार की जा रही है। बेस कैंप के पास 8 मीटर लंबी और 6 मीटर चौड़ी इस वाटिका की जमीन तैयार करने में पुलिसकर्मियों को एक सप्ताह लगा। विशेष अनुष्ठान के साथ यहां शिव को प्यारा रुद्राक्ष का पौधा रोपा गया।

पुलिस के जवानों ने करीब 16 हजार फीट की ऊंचाई से ब्रह्म कमल और करीब 15 हजार फीट की ऊंचाई से भृंगराज के पौधे लाकर यहां रोपे। सावन के महीने में भगवान केदारनाथ को ब्रह्म कमल के पुष्प अर्पित किए जाते हैं और इसीलिए यहां पर ब्रह्म कमल का बगीचा तैयार किया जा रहा है और इस वाटिका को ब्रह्म वाटिका का नाम दिया गया है।

इस बगीचे की देखभाल करने और भारी हिमपात से इसको सुरक्षा देने के लिए बेस कैंप में साल के बारह महीने पुलिस की टीम तैनात रहेगी।