उत्तराखंड में आफत : पहाड़ों में भारी बारिश, गंगा खतरे के निशान पर

उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून सहित समूचे उत्तराखंड में शुक्रवार को शुरू हुई बारिश शनिवार को भी दिनभर रुक-रुककर लगातार जारी है। दून में सुबह से लगातार बारिश के चलते कई जगहों पर जलभराव हो गया है।

मौसम विभाग ने शनिवार को भी राजधानी दून में गरज के साथ बारिश होने की संभावना जताई थी। वहीं, शुक्रवार को शहर में सुबह से शाम 5.30 बजे के बीच कुल 63.1 मिमी बारिश हुई। शुक्रवार पूरी रात रुक-रुककर हो रही बारिश शनिवार को भी जारी है। बारिश के चलते दून के कई इलाकों में पानी भर गया है।

पहाड़ों पर भी सुबह से लगातार बारिश हो रही है। बारिश के चलते मलबा गिरने से सिरोहबगड़ में बद्रीनाथ हाईवे सुबह बंद हो गया। चार घंटे की मशक्कत के बाद हाईवे खुल पाया। बार‌िश के चलते नद‌ियां और गदेरे उफान पर हैं।

वहीं पहाड़ों पर हो रही बारिश का असर मैदानी क्षेत्रों में नदियों पर दिखने लगा है। हरिद्वार में गंगा नदी में रात से जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। दोपहर बाद तक म‌िली सूचना के अनुसार गंगा खतरे के निशान से 1.20 मीटर नीचे बह रही है। साथ ही मुड़ाल व धासीराम नदियां भी पूरी तरह उफान पर हैं।

गंगा में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए प्रशासन ने तटवर्ती इलाकों में अलर्ट घोषित कर दिया है। पानी बढ़ता देखकर श्यामपुर कांगड़ी में लोग दहशत में घरों के बाहर नजर लगाए हुए हैं।

भारी बरसात के चलते राजाजी पार्क में भी नुकसान हुआ है। पार्क का ट्रैक कई जगहों से बह जाने की खबर है। इसके अतिरिक्त कई जगहों से नुकसान की सूचना है।