श्रीनगर : बादल फटने से भारी नुकसान, लोगों के घरों में घुसा पानी

श्रीनगर।… भारी बारिश से शुक्रवार रात श्रीनगर में लोअर भक्तियाना, कोठड़, कमलेश्वर, घसिया महादेव में कई घरों में बरसाती पानी और मलबा घुस गया। उधर ग्वाड़ में बादल फटने से उफान के साथ आए बरसाती पानी में 19 ग्रामीणों के 15 नाली खेत भी बह गए। एसडीएम श्रीनगर के निर्देश पर हल्का पटवारी ने मौके का निरीक्षण कर रिपोर्ट दी।

शुक्रवार रात लगभग दस बजे शुरू हुई भारी बारिश से बांसवाड़ा और घसिया महादेव में भारी मात्रा में मलबा भी बद्रीनाथ नेशनल हाईवे पर आ गया। इससे एनएच बंद हो गया। एसडीएम ने रात में ही मौके पर पहुंचकर जेसीबी से लगभग दो बजे रात में एनएच को यातायात के लिए खुलवाया।

घसिया महादेव में बड़ा पुश्ता भी भरभराकर गिर गया। कमलेश्वर और लोअर भक्तियाना में कई घरों में बरसाती पानी घुस गया। न्यू कमलेश्वर में भूस्खलन से सीवर लाइन भी टूट गई। पुरानी आईटीआई के पास एनएच पर रात में दो से तीन फुट पानी भरा होने पर कई घंटों तक तालाब बना रहा।

ग्वाड़ निवासी और खिर्सू ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह रावत ने बताया कि रात लगभग ढाई बजे अचानक बादल फटने से प्रेमलाल के घर के पास से भारी मात्रा में बरसाती पानी गुजरा। एक बड़े गदेरे के रूप में गुजरते इस तूफानी पानी ने 15 नाली खेत भी अपनी चपेट में ले लिए। इससे 19 किसानों के किसानों के खेत बह गए हैं। हल्का पटवारी श्री पटवाल ने एसडीएम रजा अब्बास के निर्देश पर ग्वाड़ पहुंचकर नुकसान का जायजा लेकर रिपोर्ट दी।

लोअर भक्तियाना में गणेश सेमवाल, प्रदीप कोठारी, अनीता कठैत सहित अन्य घरों में, कोठड़ में पंवार, गोस्वामी के मकानों में, घसिया महादेव में सतीश रांगड़, शंकर रुडोला सहित अन्य के घरों में बरसाती पानी और मलबा घुस गया। न्यू कमलेश्वर क्षेत्र में भूस्खलन के साथ ही सीवर लाइन भी टूट गयी। जिससे न्यू कमलेश्वर को जाने वाला मार्ग भी क्षतिग्रस्त हुआ।