देहरादून।… उत्तराखंड में देहरादून जिले के मसूरी में लाल बहादुर शास्त्री प्रशासनिक अकादमी (एलबीएसएए) एक बार फिर सुर्खियों में है। यहां की सुरक्षा चौकी में तैनात भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल (आईटीबीपी) के एक जवान ने शुक्रवार देर शाम एक सब इंस्पेक्टर सहित तीन साथियों पर एलएमजी से ताबड़तोड़ फायरिंग की।

घटना में सब-इंस्पेक्टर की मौत हो गई और एक जवान जख्मी हो गया और दूसरा बाल-बाल बचा। घायल का यहां के मैक्स अस्पताल में इलाज चल रहा है। घटना के बाद आरोपी जवान एलएमजी और सौ कारतूस लेकर जंगल की तरफ फरार हो गया।

आईटीबीपी व पुलिस उसकी तलाश में कांबिंग कर रही हैं। मूसलाधार बारिश के कारण कांबिंग अभियान में दिक्कतें आ रही हैं। शुरुआती छानबीन के अनुसार घटना की वजह आरोपी जवान का अपने अधिकारी से नाराज होना पता चल रहा है। बताया जा रहा है कि गुरुवार रात अधिकारी ने जवान को ड्यूटी के वक्त मोबाइल पर बात करने पर डांट दिया था।

हालांकि सुरक्षा चौकी का स्टाफ इस पर खुलकर कुछ भी बोलने से बच रहा है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पुष्पक ज्योति ने बताया कि हमलावर जवान की तलाश में संयुक्त ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

itbp_mussorie

उधर, वारदात के बाद आईटीबीपी ने अकादमी की सुरक्षा में तैनात टुकड़ी के सभी सदस्यों को बदल नए गार्ड तैनात कर दिए गए हैं। इसकी पुष्टि आईटीबीपी के डीआइजी रविंद्र सिंह ने की है। एलबीएसएनए की सुरक्षा में तैनात पूरी यूनिट बदलने का आदेश दिया।

सनसनीखेज घटना एलबीएसएए के मुख्य गेट पर शाम करीब छह बजे की है। यहां सुरक्षा का जिम्मा आईटीबीपी 34वीं बटालियन के पास है। पुलिस के मुताबिक ड्यूटी पर तैनात जवान चंद्रशेखर ने अचानक एलएमजी से फायरिंग कर दी। इससे पहले कि कोई भी कुछ समझ पाता उसने अपने साथियों पर छह राउंड गोलियां दाग दीं।

फायरिंग में वहां तैनात सब इंस्पेक्टर सुरेंद्र लाल और जवान अख्तर हुसैन जख्मी हो गए, जबकि एक अन्य जवान ने नीचे लेटकर अपनी जान बचाई। फायरिंग से अकादमी परिसर में अफरा-तफरी मच गई। इस बीच हमलावर जवान बड़ी मात्रा में कारतूस और एलएमजी लेकर जंगल की ओर फरार हो गया।

सुरक्षा कर्मियों ने घायलों को मसूरी लंढौर स्थित सामुदायिक अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने सब इंस्पेक्टर सुरेंद्र को मृत घोषित कर दिया। जवान अख्तर हुसैन की हालत नाजुक देख फर्स्ट एड के बाद तुरंत देहरादून के मैक्स अस्पताल रेफर कर दिया। आरोपी चंद्रशेखर और मृतक सब इंस्पेक्टर सुरेंद्र लाल हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा इलाके के निवासी बताए जा रहे हैं। जबकि घायल जवान अख्तर हुसैन सहारनपुर (उत्तर प्रदेश) का निवासी बताया जा रहा है।

सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पुष्पक ज्योति, पुलिस अधीक्षक नगर अजय सिंह समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया है। हमलावर जवान के खिलाफ आईटीबीपी ने मसूरी कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है।