भारतीय रेलवे ने डिजीटलाइजेशन की ओर बढ़ाए कदम, शुरू कीं ई-सुविधाएं

भारतीय रेलवे ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के डिजिटल इंडिया के अभियान को आम आदमी के करीब लाते हुए कई सुविधाओं का शुभारंभ किया। रेलवे ने अपने यात्रियों को हिन्दी में ई-टिकट बनाने, स्मार्ट फोन की मदद से कागज रहित टिकट की सुविधा का मुंबई में विस्तार करने तथा रात में गंतव्य आने पर यात्रियों को एसएमएस से सूचना देने जैसी सेवाओं की शुरुआत की।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रेल भवन में आयोजित एक डिजीटाइज्ड कार्यक्रम में इन सेवाओं का शुभारंभ किया। इस मौके पर प्रभु ने कहा कि रेलवे को देश के सामाजिक- आर्थिक विकास का उत्प्रेरक बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि रेल परिचालन को अधिकाधिक सुविधाजनक बनाने के लिए अनेकानेक कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि रेलवे को इसके लिए धन की आवश्यकता है लेकिन मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति और प्रधानमंत्री के साथ-साथ नीति आयोग और वित्त मंत्रालय का बड़ा सहयोग मिल रहा है।

भारतीय रेल खान-पान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) की वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डॉट आईआरसीटीसी डॉट सीओ डॉट इन का हिन्दी संस्करण बनकर तैयार है और इसके माध्यम से अंग्रेज़ी में कमजोर यात्री हिन्दी में टिकट बना सकेंगे। इस हिन्दी वेबसाइट में चेतावनी एवं त्रुटि संदेशों सहित सभी सामग्री हिन्दी में उपलब्ध कराई गई हैं। भुगतान की विधि एवं दिशा-निर्देश भी हिन्दी में दिए गए हैं। रेलवे का ई-वॉलेट यानी ई-बटुआ भी हिन्दी में काम करेगा।

दूसरी महत्वपूर्ण सुविधा राजधानी एवं दूरंतो एक्सप्रेस गाड़ियों में गंतव्य आने की एसएमएस सूचना देने संबंधी है। यह सुविधा रात 11 बजे से सुबह 7 बजे के बीच आने वाले स्टेशनों के लिए ही होगी। इस सुविधा से ऐसे यात्रियों को राहत मिलेगी जो कई बार रात में सोते रह जाने के कारण गंतव्य पर नहीं उतर पाते।

सूत्रों के अनुसार करीब डेढ़ माह पहले चेन्नई के एगमोर-ताम्बरम खंड पर शुरू की गई काग़ज़ रहित अनारक्षित टिकट देने की प्रणाली मुंबई में पश्चिम रेलवे के चर्चगेट -डहाणु रोड खंड पर प्रारंभ की गई है। इस 123 किलोमीटर के खंड में 35 स्टेशन होंगे।

इस सुविधा के तहत यात्री कहीं आते-जाते वक्त भी अपने मोबाइल के माध्यम से एक एप्लीकेशन से अनारक्षित टिकट खरीद सकते हैं तथा ई-बटुआ अथवा इंटरनेट बैंकिंग या कार्ड से भुगतान कर सकते हैं। यात्री अपने मोबाइल फोन पर आए टिकट संबंधी एसएमएस को दिखाकर निर्धारित ट्रेन से सफर कर सकते हैं।