चम्पावत में LPG बनी मुसीबत, घंटों लाइन में लगने के बाद भी कई खाली हाथ

पिछले काफी दिनों से जैसे ही चम्पावत के जिला मुख्यालय शहर में गैस का ट्रक आता है, सिलेंडर के लिए उपभोक्ताओं में अफरातफरी मच जाती है। शनिवार को भी ऐसा ही हुआ और काफी देर तक लाइन में लगने के बाद भी करीब 70 लोगों को गैस नहीं मिल पाई। नागरिकों ने आईओसी और प्रशासन से सिलेंडरों की आपूर्ति बढ़ाने की मांग की है।

चंपावत गैस वितरण केंद्र में दो जून से लगातार शनिवार को तीसरे दिन एक-एक ट्रक सिलेंडरों की आपूर्ति हुई, इसके बावजूद काफी लोगों को बिना सिलेंडर ही मायूस घर लौटना पड़ा। गैस वितरण केंद्र के प्रभारी एसके वर्मा ने बताया कि दो जून को 800 सिलेंडरों का बैकलॉग था। जो अब कम होकर 450 रह गया है।

उन्होंने कहा, आज भी 70 लोग सिलेंडर के बगैर लौटे। चंपावत में करीब 13 हजार उपभोक्ता हैं, जबकि हर महीने की रिफलिंग करीब 5 हजार है और यही सिलेंडरों की कम आपूर्ति मुसीबत का सबब बनी हुई है।