रूपकुंड सैर के लिए निकले दिल्ली के एक ट्रैकर दल के गाइड की खाई में गिरने से मौत हो गई है। बाद में वाण गांव के ग्रामीण शव को खाई से निकालकर गांव ले गए।

तहसील प्रशासन ने राजस्व पुलिस के नेतृत्व में बचाव दल को घटनास्थल के लिए रवाना किया। बताया जा रहा है कि गाइड एक महिला ट्रैकर को बचाने की कोशिश में खाई में जा गिरा और बर्फ में दबने से उसकी मौत हो गई।

देवाल के राजस्व सब-इंस्पेक्टर मकर सिंह बिष्ट ने बताया कि बुधवार को गाइड और वाण निवासी 25 वर्षीय पुष्कर सिंह (पुत्र हुकुम सिंह) ट्रैकर दल के साथ बगुवाबासा से रूपकुंड के लिए चला था।

वापसी के समय 11 बजे रूपकुंड और बगुवाबासा के बीच एक महिला ट्रैकर अनियंत्रित होकर गिर गई, जिसे बचाने की कोशिश में गाइड पुष्कर सिंह गहरी खाई में गिरकर बर्फ में दब गया, इससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मकर सिंह नेगी ने बताया कि वाण गांव के खच्चर संचालक वेदनी तक जाते हैं इससे आगे बगुवाबासा है। खच्चर यहां पहुंचे तो इस घटना की जानकारी मिली।

simply_uttarakhand-roopkund-trek

खबर मिलने के बाद राजस्व पुलिस दल के साथ बचाव दल मौके के लिए रवाना हो गया। देवाल के वन क्षेत्राधिकारी एसपी वर्मा ने बताया कि बेंगलुरु निवासी चार लोगों (अभिषेक, विपुल, अंकिता, पायल) का यह दल दिल्ली के ट्रैकर दल के नाम से पंजीकृत है, जो 20 जून को लोहाजंग से दिदना गए थे।

21 जून को दिदना से आली बुग्याल, 22 को आली से वेदनी पंहुचे। 23 को वेदनी से बगुवाबासा, 24 से बगुवाबास से रूपकुंड से वापस हो रहे थे। महिला ट्रैकर को भी चोट आयी है। दूसरी ओर थराली के एसडीएम शैलेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि राजस्व पुलिस सहित छह लोगों के दल को घटनास्थल के लिए रवाना कर दिया गया है।