राजपथ-योगपथ बना और बन गए दो वर्ल्ड रिकॉर्ड, दुनिया ने देखी योग की शक्ति

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के राजपथ पर आयोजित समारोह स्थल पर 35,985 लोगों ने एक साथ योगाभ्यास किया। उस सामूहिक आयोजन में 84 देशों के प्रतिनिधि मौजूद थे, जिसके कारण इस कार्यक्रम में 2 ‘गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्डस’ दर्ज किए गए।

आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने आंकड़ों के बारे में जानकारी देते हुए संवाददाताओं को बताया, ‘यह भारत के लिए गर्व की बात है कि हमने एक दिन में दो कीर्तिमान स्थापित किए।’ उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कीर्तिमान बनाने करने और कार्यक्रम के सफल आयोजन पर सभी को बधाई दी है।

Yoga-day

राजपथ के समारोह ने 2005 में बने पिछले रिकॉर्ड को तोड़ दिया, उस समय जीवाजी विश्वविद्यालय ग्वालियर के विवेकानंद केन्द्र के नेतृत्व में 362 स्कूलों के 29,973 छात्रों ने 18 मिनट तक सूर्य नमस्कार के लिए कई योग क्रियाएं की थीं।

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्डस के कीर्तिमान सत्यापन मामलों के वैश्विक प्रमुख मार्को सरिगाटी ने कहा कि ‘एर्नस्ट एंड यंग’ ने पूरे कार्यक्रम में शामिल लोगों की संख्या की जांच की। उन्होंने कहा कि पहली बार रिकॉर्ड बुक्स में जगह बनाने के लिए किसी योग कार्यक्रम के लिए न्यूनतम मानदंड कम से कम 50 देशों के लोगों का शामिल होना तय हुआ।