मोबाइल को बनाएं अपना साथी, चारधाम के बारे में यहीं मिलेगी हर जानकारी

चारधाम यात्रा पर उत्तराखंड आने की सोच रहे हैं लेकिन यहां पहाड़ों की परिस्थितियों से आप कभी रूबरू नहीं हुए हैं तो अब आपको चिंता की कोई जरूरत नहीं है। यहां के हालात, इतिहास और अन्य प्रमुख व जरूरी जानकारी आपको पलभर में अपने ही मोबाइल पर मिल जाएगी और आपकी चिंताएं छूमंतर हो जाएंगी।

भारतीय पुरातत्व विभाग ने एक ऐसा ‘ऐप’ बनाया है जिसे एंड्रॉयड मोबाइल या आईओएस पर डाउनलोड करने के बाद आप यमुनोत्री, गंगोत्री, केदारनाथ, बद्रीनाथ और यहां के अन्य पर्यटन व ऐतिहासिक स्थानों की जानकारी हासिल कर सकेंगे।

‘मॉन्युमेंट्स ऑफ उत्तराखंड’ ऐप में हरिद्वार और ऋषिकेश को भी शामिल किया गया है। ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसका फायदा मिल सके, इसके लिए विभाग इस ‘ऐप’ के प्रचार-प्रसार में भी जुटा है।

दो साल पहले (16 जून 2013) को चारधाम यात्रा के दौरान आए जलप्रलय के बाद पुरातत्व विभाग ने इस ‘ऐप’ को बनाने की तैयारी शुरू की थी। इस ‘ऐप’ में उत्तराखंड के चारों धाम के बारे में जानकारी दी गई है।

इस ‘ऐप’ की मदद से लोगों को चारधाम यात्रा की तैयारी के संबंध में मदद मिलेगी और वे यहां के बारे में अधिक जानकारी हासिल कर सकेंगे। इसके अलावा हरिद्वार और ऋषिकेश के विभिन्न स्थलों को भी इस ‘ऐप’ में उत्तराखंड के चारों धाम के साथ शामिल किया गया है।

monuments-of-uttarakhand

इससे हरिद्वार और ऋषिकेश आने वालों के जेहन में यह रहेगा कि उन्हें कहां के दर्शन करने हैं। इसके साथ ही उत्तराखंड के विभिन्न स्मारकों के संबंध में भी ‘ऐप’ में जानकारी उपलब्ध कराई जा रही है। पुरातत्व विभाग अपने विभिन्न कार्यक्रमों और बैठकों में इस ‘ऐप’ की जानकारी दे रहा है।

ऐसे करें ऐप डाउनलोड
मोबाइल में प्ले स्टोर में जाएं, ऐप्स पर क्लिक करें। इसके बाद ‘मॉन्युमेंट्स ऑफ उत्तराखंड’ ऐप पर क्लिक करें। मोबाइल पर चारधाम की जानकारी आ जाएगी। एंड्रायड और आईओएस पर इस ऐप को डाउनलोड किया जा सकता है।

ऐप को 28 मई को केंद्रीय पर्यटन मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने हल्द्वानी में लॉन्च किया था। इसके साथ ही जागेश्वर स्मारक समूह पर सात मिनट की डॉक्युमेंटरी भी दिखाई जा रही है। ऐप की डाउनलोड संख्या कम होने पर विभाग इसे अब प्रचारित-प्रसारित कर रहा है।