गैरसैंण पहुंचे कुंजवाल ने कहा, देहरादून में विधान भवन निर्माण सही कदम नहीं

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल शुक्रवार को राज्य की प्रस्तावित राजधानी गैरसैंण पहुंचे। यहां उन्होंने भराड़ीसैंण में निर्माणाधीन विधानभवन सहित अन्य निर्माण कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि देहरादून में सचिवालय और विधानसभा का निर्माण तर्कसंगत नहीं है।

कुंजवाल ने कहा, अस्थायी राजधानी देहरादून एक विकसित शहर है और देहरादून में राजधानी से संबंधित कोई निर्माण करना ठीक नहीं होगा। कुंजवाल ने कहा कि राज्य की भावनाओं के अनुरूप गैरसैंण ही राजधानी बननी चाहिए।

भराड़ीसैंण पहुंचे स्पीकर कुंजवाल ने निर्माण स्थल तक पानी की लाइन न पहुंचने पर जलनिगम के अधिकारियों की कार्यशैली पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि जब तक लाइन निर्माण के लिए वन अधिनियम का मामला निपटता है तब तक विदेशी पशु प्रजनन केंद्र की लाइन के समानांतर (पशुप्रजनन पेयजल लाइन की भूमि से) पेयजल लाइन का निर्माण किया जाए।

वहीं वन अधिनियम मामलों के नोडल अधिकारी को पेयजल लाइन के मामले को जल्द हल करने के लिए फोन पर निर्देश दिए। कुंजवाल ने कहा कि भराड़ीसैंण में स्वीकृत सचिवालय निर्माण के लिए विदेशी पशु प्रजनन केंद्र की गोशालाओं को नहीं हटाया जाएगा।

इस दौरान सारकोट, परवाड़ी सहित भराड़ीसैंण के आसपास के ग्रामीणों ने गांव के पेयजल स्रोतों के संरक्षण की मांग विधानसभा अध्यक्ष से की।