मैगी पर पिछले कुछ दिनों से बवाल चल रहा है। उत्तर प्रदेश में मैगी के एक लॉट में एमएसजी कंटेंट पाए जाने के बाद पूरे देशभर में बवाल मच गया। अब इसकी आंच मैगी का विज्ञापन करने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस धकधक गर्ल माधुरी दीक्षित तक पहुंच गई है। माधुरी को हरिद्वार के खाद्य सुरक्षा विभाग की ओर से नोटिस भेजा गया है।

इस नोटिस में विज्ञापन करने वाले दावों की रिपोर्ट मांगी गई है। साथ ही 15 दिन में जवाब नहीं देने पर उनके खिलाफ एडीएम कोर्ट में मुकदमा दर्ज कराने की चेतावनी भी दी गई है।

खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देशों पर नेस्ले कंपनी के प्रोडक्ट मैगी पर कार्रवाई जारी है। हरिद्वार के खाद्य सुरक्षा विभाग की ओर से मैगी का विज्ञापन करने वाली एक्ट्रेस माधुरी दीक्षित को नोटिस भेजकर सात बिंदुओं पर जवाब मांगा गया है।

जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी महिमानंद जोशी ने नोटिस में जवाब मांगा है कि मैगी हेल्थ को मजेदार कैसे बनाती है। बॉलीवुड एक्ट्रेस से पूछा गया है क‌ि किस रिसर्च रिपोर्ट, लेबोरेट्री, वैज्ञानिक के आधार पर दावे किए हैं। उनसे पूछा गया है कि उन्होंने ये विज्ञापन कब किया था और विज्ञापन वाले अनुबंध की प्रति भी मांगी गई है। साथ ही पूछा गया है कि विज्ञापन बनाने के लिए कितनी धनराशि प्राप्त हुई और अनुबंध कितने दिनों का है।

Maggi-oats

उन्होंने बताया कि नोटिस में चेतावनी दी है कि यदि 15 दिन में जवाब नहीं दिया तो एकतरफा कार्रवाई करते हुए एडीएम कोर्ट में मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। जिला खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारियों ने रानीपुर मोड़ पर स्थित विशाल मेगा मार्ट में बेचने के लिए रखे नेस्ले की मैगी के दो सैंपल लिए हैं। यहां से सैंपल के रूप में मैगी टू मिनट मसाला, नूडल और मैगी वेज आटा नूडल के सैंपल भरे गए हैं, जिन्हें जांच के लिए रुद्रपुर लैब भेजा गया है।

जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी महिमानंद जोशी ने बताया कि सैंपल भरने के अलावा विशाल मेगा मार्ट मैनेजर, सप्लायर राधे कृष्णा ट्रेडिंग कंपनी, निर्माता कपंनी नेस्ले प्लांट पंतनगर को भी नोटिस भेजकर 15 दिन में जवाब मांगा गया है।