उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा में पौड़ी के प्रीतम ने रिकॉर्ड तोड़ा, यूपी को भी पीछे छोड़ा

उत्तराखंड में हाईस्कूल की बोर्ड परीक्षा में सरस्वती विद्या मंदिर श्रीनगर, पौड़ी गढ़वाल के छात्र प्रीतम सिंह ने 98.20 फीसदी अंक हासिल किए हैं। प्रीतम ने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड बोर्ड में प्रीतम ने अब तक के सबसे ज्यादा 500 में से 491 अंक हासिल करके इतिहास रच दिया है।

गौरतलब है कि सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड के स्कूलों के बच्चे ही अब तक इस स्तर तक पहुंचते रहे हैं। उत्तराखंड बोर्ड परीक्षाओं में इतने अंक पाना काफी कठिन या समझें नामुमकिन ही माना जाता रहा है, लेकिन प्रीतम ने 491 लाकर इस नामुमकिन को मुमकिन कर दिखाया है।

मैट्रिक टॉपर प्रीतम के अंक इस प्रकार हैं:

  • – हिंदी में 100
  • – विज्ञान में 99
  • – गणित में 98
  • – सामाजिक विज्ञान में 98
  • – अंग्रेजी में 96
  • – संस्कृत में 92

नोट : (अंग्रेजी और संस्कृत में से जिसमें भी ज्यादा अंक हों उसे ही जोड़ा जाता है, 2005 से यह व्यवस्था की गई है।)

प्रीतम स‌िंह ने सिर्फ उत्तराखंड ही नहीं यूपी बोर्ड को भी पीछे छोड़ द‌िया है। उत्तर प्रदेश हाईस्कूल बोर्ड परीक्षा में इस साल बस्ती निवासी सर्वेश वर्मा ने 96.83 फीसदी अंक हासिल किए हैं।

उत्तराखंड बोर्ड में पिछले साल हाईस्कूल में सरस्वती विद्या मंदिर नानकमत्ता ऊधमसिंह नगर की विजय लक्ष्मी ने राज्य में तब तक के सर्वाधिक 95.6 फीसदी अंक हासिल किए थे। यह रिकॉर्ड तोड़ते हुए प्रीतम ने परीक्षार्थियों के सामने नया लक्ष्य (98.20 फीसदी अंक) से ज्यादा का रखा है।

सीआईएससीई और सीबीएसई के बाद उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा के परिणामों में भी बेटियों ने बाजी मारी है। हाईस्कूल के कुल 70.68 फीसदी परिणाम में बालिकाओं का प्रतिशत 76.40 रहा जबकि 65.08 फीसती लड़के पास हुए। वहीं इंट‌रमीडिएट का कुल परिणाम 74.54 जिसमें 78.81 फीसदी लड़कियां और 76.40 प्रतिशत लड़के सफल रहे।

हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के परीक्षाफल में राज्य भर में बागेश्वर के विद्यार्थियों के सफलता का प्रतिशत सर्वाधिक रहा है। इस जिले में हाईस्कूल में 80.93 और इंटर में 84.62 परीक्षार्थी सफल रहे। हाईस्कूल और इंटर में ऊधमसिंह नगर सबसे निचले पायदान पर रहा। यहां हाईस्कूल में 63.70 और इंटर में 64.14 फीसदी छात्र ही पास हो पाए।