पहाड़ों में लगातार चढ़ रहा सियासी पारा, मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष दिल्ली रवाना

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय अचानक दिल्ली रवाना हो गए। दोनों नेताओं के एक साथ दिल्ली जाने को मंत्रिमंडल के विस्तार से भी जोड़कर देखा जा रहा है। वैसे मुख्यमंत्री हरीश रावत पहले ही कह चुके हैं कि यह फैसला हाईकमान को करना है।

सूत्रों की मानें तो मुख्यमंत्री हरीश रावत किसी निजी समारोह में शमिल होने के लिए दिल्ली गए हैं। लेकिन दिल्ली में उनकी मुलाकात केंद्रीय मंत्रियों और पार्टी नेताओं से भी संभव है।

हालांकि प्रदेश अध्यक्ष किशोर का दिल्ली दौरा भी निजी बताया जा रहा है। लेकिन इतना जरूर है कि किशोर के इस बार के दिल्ली दौरे में कांग्रेस के नए बने संगठन जिलों और ब्लॉकों की सूची पर मुहर लग सकती है। माना जा रहा है कि किशोर इस मामले को एआईसीसी के सामने उठाएंगे।

इससे पहले सचिवालय में सोमवार को मुख्यमंत्री हरीश रावत ने ई-रिसीट और ई-पेमेंट प्रणाली का उद्घाटन किया। इस व्यवस्था से केंद्र और राज्य के बीच भुगतान की व्यवस्था पूरी तरह से स्वचालित हो गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह व्यवस्था राज्य के लिए खासी लाभकारी है। अधिकारियों के मुताबिक अगस्त 2014 में मुख्य सचिवों और वित्त सचिवों की बैठक में इस पर फैसला हुआ था। इसके बाद रिजर्व बैंक ने कोर बैंकिंग पर आधारित यह माड्यूल तैयार किया था।