मुंबई लोकल की तरह हल्द्वानी को मिलेगी डेमू ट्रेनों की सौगात

रेलवे की खाली भूमि पर डीजल-इलेक्ट्रिकल मल्टीपल मेंटीनेंस यूनिट (डेमू) शेड बनाने का रास्ता साफ हो चुका है। रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा 26 मई को सीबीगंज में डेमू शेड की संग-ए-बुनियाद रखेंगे। इसकी तैयारियां शुरू हो चुकी हैं।

दरअसल, मुंबई-कोलकाता और एनसीआर की तरह बरेली, पीलीभीत, बदायूं, शाहजहांपुर, मुरादाबाद, रामपुर, बिजनौर, हल्द्वानी आदि स्टेशन के बीच भी अब डेमू ट्रेन रफ्तार भरेंगी, हालांकि इसमें एक साल का वक्त लगेगा।

रेल बजट 2015-16 में पांच करोड़ रुपये की राशि का ऐलान करने के बाद सीबीगंज की बंद स्लीपर फैक्ट्री की खाली भूमि पर डेमू शेड बनाने को संग-ए-बुनियाद रखने को हरी झंडी मिल गई है।

रेल राज्यमंत्री सिन्हा 26 मई को बरेली में इसकी बुनियाद रखेंगे। रेल अधिकारियों के मुताबिक 37.39 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होने वाले डेमू शेड को एक साल में तैयार करने का लक्ष्य है।

शुरुआत में रुहेलखंड-उत्तराखंड स्टेशनों के बीच सात से आठ कोच की लोकल डेमू ट्रेन चलाई जाएगी। डेमू ट्रेनों का मेंटेनेंस सीबीगंज स्थित डेमू शेड में होगा।