केंद्र सरकार ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया, मुआवजा हम दे रहे हैं : हरीश रावत

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि ‘अच्छे दिन’ लाने का दावा करने वाली केंद्र की मोदी सरकार ने उत्तराखंड के किसानों को मुआवजा देने के लिए एक धेला भी नहीं दिया है। उन्होंने कहा, जो कुछ भी किसानों को दिया जा रहा है, वह प्रदेश सरकार अपने बलबूते पर दे रही है।

अगले साल होने वाले अर्द्धकुंभ के लिए भी अभी तक कोई पैसा नहीं दिया गया, जबकि कांग्रेस की केंद्र सरकार में कुंभ में एक बार 500 करोड़ तो दूसरी बार 274 करोड़ रुपये बिना मांगे प्रदेश सरकार को मिल गए थे, लेकिन इस बजट से कुछ लोगों की पौ बारह हो गई थी।

मुख्यमंत्री नगर निगम सभागार में कांग्रेस पार्टी की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने पीएसपी, सपा, बीजेपी छोड़कर आए कार्यकर्ताओं को पार्टी की सदस्यता दिलाई।

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कांग्रेस को सभी वर्गों का हितैषी बताते हुए एक-एक करके अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। सभी कार्यकर्ताओं से उन्होंने संगठन की मजबूती के लिए काम करने का आह्वान किया। साथ ही कहा कि जो नेता अपने साथ अन्य लोगों को नहीं जोड़ सकता, वह दस साल से अधिक पार्टी में नहीं रह सकता।

केवल वही लोग लंबे चलते हैं जो नए लोगों को जोड़ने की क्षमता रखते हैं, लेकिन जो नेता बिना नए लोगों को जोड़े बड़ी तेजी के साथ आगे बढ़ते हैं, वह उतनी ही जल्दी खत्म हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि जैसा आगाज पार्टी में नए लोगों को जोड़ने का हुआ, ऐसा सदस्यता अभियान आगे भी जारी रहना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि जो नेता पार्टी में नए लोगों को नहीं जोड़ पाएंगे, उन्हें पार्टी में कोई स्थान नहीं दिया जाएगा, ऐसे लोगों को फ्रिज में डाल दिया जाएगा। प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन दिनों चीन की यात्रा पर हैं, लेकिन चीन ने प्रधानमंत्री के स्वागत में उनके सामने ऐसा नक्शा रख दिया। जिसमें से कश्मीर और अरुणाचल प्रदेश ही गायब है। ऐसे में देश की सीमाएं कैसे सुरक्षित रह सकती हैं। यह एक सोचनीय बिंदु है।