नैनीताल के नयना देवी मंदिर में समलैंगिक युवतियों ने रचाई शादी

सामाजिक मान्यताओं और व्यवस्थाओं को दरकिनार करते हुए दो समलैंगिक युवतियों ने गुरुनार को नैनिताल के नयना देवी मंदिर में देवी को साक्षी मानकर शादी कर ली। दोनों का कहना है कि जल्त ही इस रिश्ते को कोर्ट में रजिस्टर्ड करेंगे।

गुरुवार देर शाम नयना देवी मंदिर में एक-दूसरे को जयमाला पहनाकर शादी के बंधन में बंधे कोलकाता मूल की देवी चटर्जी और हल्द्वानी निवासी परी साह का कहना है कि करीब छह साल से वे एक-दूसरे को जानती हैं।

दिल्ली स्थित एक संस्थान में बतौर डांस टीचर कार्यरत युवतियों का कहना है कि वह लंबे अरसे से मालवीय नगर दिल्ली में रह रहे हैं। दोनों के बीच बहुत प्यार है। इस कारण उन्होंने एक-दूसरे के साथ रहने का संकल्प लिया है।

इसके चलते उन्होंने नैनीताल घूमने का प्लान बनाया और देर शाम मां नयना देवी मंदिर में देवी को साक्षी मानकर उन्होंने एक-दूसरे को अपना जीवन साथी बना लिया। उन्होंने कहा कि जल्त ही वह रिश्ते को कानून के जरिए भी पक्का करेंगे।