बद्रीनाथ और हेमकुंड साहिब में बर्फबारी, केदारनाथ में हुई बारिश

उत्तराखंड के चमोली जिले में बुधवार को दोपहर बाद मौसम ने एक बार फिर करवट ली। निचले इलाकों में बारिश और बद्रीनाथ, हेमकुंड साहिब, नंदा घुंघटी, रुद्रनाथ के साथ ही ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी भी हुई।

बद्रीनाथ धाम में तो दोपहर डेढ़ बजे से तीन बजे तक झमाझम बारिश हुई, जिससे धाम में ठंड बढ़ गई है। खराब मौसम के बाद भी धाम में दिनभर तीर्थयात्रियों की चहल-पहल बनी रही।

दूसरी ओर, मौसम खराब होने से हेमकुंड साहिब मार्ग से बर्फ हटाने का कार्य भी प्रभावित हुआ है। यहां बर्फ हटाने में लगे सेना के जवान और सेवादार दोपहर बाद बेस कैंप घांघरिया लौट आए।

केदारनाथ बाबा केदार पुरी में शाम साढ़े पांच बजे से हल्की बारिश शुरू हो गई। मौसम खराब होने से तापमान भी घटकर 9 डिग्री पर पहुंच गया। धाम में दोपहर बाद भी आधा घंटे तेज बारिश हुई थी। उधर जिला मुख्यालय रुद्रप्रयाग सहित केदारघाटी, कालीमठ घाटी और जखोली क्षेत्र में भी रिमझिम बारिश हुई।

हेमकुंड साहिब के लिए घांघरिया से आगे करीब साढ़े तीन किलोमीटर के रास्ते से बर्फ हटा दी गई है। इस काम में सेना के जवान और गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी के स्वयं सेवी जुटे हुए हैं। राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष नरेंद्र बिंद्रा के मुताबिक करीब पांच किलोमीटर रास्ता बर्फ से ढका हुआ था। हेमकुंड साहिब की यात्रा एक जून से शुरू हो रही है और यात्रियों के लिए पूरी व्यवस्था का दावा किया जा रहा है।