उत्तराखंड में बड़ी हलचल की आशंका, नेपाल में आए दूसरे भूकंप से वैज्ञानिक हैरान

नेपाल में मंगलवार 12 मई को आए दूसरे बड़े भूकंप से आईआईटी के वैज्ञानिक भी हैरान हैं। उधर वैज्ञानिकों ने भारत में भी बड़े भूकंप की आशंका जताई है। वैज्ञानिकों के मुताबिक उत्तराखंड में गैप बना हुआ है, जिसके चलते कभी भी बड़ा भूकंप आ सकता है।

[manual_related_posts]

आईआईटी रुड़की भूकंप विभाग के वैज्ञानिक डॉ. अशोक कुमार ने बताया कि उन्हें उम्मीद नहीं थी कि नेपाल में दोबारा इतना बड़ा भूकंप आ सकता है। 25 अप्रैल को नेपाल में आए विनाशकारी भूकंप में अभिकेंद्र से एक ओर 90 किमी और दूसरी ओर के 160 किमी क्षेत्र को आफ्टरशॉक के लिए चिह्नित किया गया था।

माना जा रहा है कि पहले भूकंप के झटके में भूगर्भ में एकत्र ऊर्जा पूरी तरह नहीं निकल पाई। डॉ. अशोक के मुताबिक अगर दोनों भूकंप की ऊर्जा एक साथ निकलती तो स्थिति ज्यादा भयावह होती।

हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि एक बार में नौ से ज्यादा मैग्निट्यूड के भूकंप आने की आशंका ना के बराबर होती है। यही कारण है नेपाल के भूगर्भ में जमा ऊर्जा दूसरे भूकंप में रिलीज हुई है।

आईआईटी के वैज्ञानिक डॉ. अशोक की माने तो उत्तराखंड में भूकंप की दृष्टि से संवेदनशील बना हुआ है। पिछले काफी दिनों से भूकंप के ना आने से उत्तराखंड में बड़ा गैप बना हुआ है। कभी भी बड़े भूकंप की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है।

आईआईटी के वैज्ञानिक डॉ. योगेंद्र सिंह हाल ही में नेपाल गए हैं। वह केंद्र सरकार की ओर से भेजे गए एक दल में शामिल हैं। संस्थान के वैज्ञानिक ने बताया कि उनसे फोन पर बातचीत हुई है और वह सुरक्षित हैं। बताया कि वह जिस होटल में ठहरे हुए हैं, उसमें भूकंप आते ही टीवी सेट बंद हो गए।