पंचायत ने नाबालिग पीड़ित का बलात्कारी संग कराया निकाह

धर्मनगरी हरिद्वार के ज्वालापुर क्षेत्र के एक गांव में किशोरी से रेप की सजा पंचायत ने निकाह करने के रूप में सुनाई। घंटों तक चली पंचायत में पहले आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला चलता रहा। लेकिन जब युवक को कानूनी कार्रवाई करने की बात कही तो वह तुरंत पीड़ित किशोरी से निकाह करने को राजी हो गया।

रविवार को क्षेत्र के एक गांव की किशोरी को गांव का ही युवक बहला फुसलाकर ले गया। दोपहर तक परिजन उसे ढूंढते रहे। दिन ढलने के बाद किशोरी अपने घर पहुंची। परिजनों के पूछताछ करने पर किशोरी ने पूरी आपबीती सुनाई।

पूछताछ में उसने बताया कि गांव का ही एक युवक उसे अपने साथ ले गया था और उसके साथ रेप किया। इससे किशोरी के परिजन तुरंत हरकत में आए और बिरादरी के सामने यह बात रखी।

बिरादरी के सामने बात आयी तो लोगों ने पूरे मामले को ग्राम प्रधान के सामने रखा गया। किशोरी और युवक पक्ष को एक साथ बिठाया गया। गांव के अन्य लोग भी बैठक में पहुंचे और पूछताछ की गई।

पंचायत में युवक ने अपना गुनाह तो कबूल कर लिया, लेकिन निकाह से इनकार करने लगा। जब पंचायत और लोगों द्वारा निर्णय न मानने पर कानूनी कार्रवाई की बात कही गई तो कानूनी जंजाल में फंसने की बात सोचकर वह टूट गया।

देर रात आनन-फानन में धर्मगुरु को बुलाकर निकाह की रस्म अदा की गई। बताया जाता है कि स्थानीय पुलिस के दो सिपाही भी पंचायत में मौजूद रहे। मामला दिनभर आसपास के गांव और ज्वालापुर क्षेत्र में चर्चा में रहा। कोतवाली प्रभारी धीरेंद्र सिंह रावत ने इस तरह की जानकारी से इनकार किया।