राज्यपाल केके पॉल ने रेडक्रॉस स्वयं सेवकों को किया सम्मानित

देहरादून।… उत्तराखंड के राज्यपाल और राज्य में भारतीय रेडक्रॉस सोसाइटी के पदेन अध्यक्ष डा. कृष्णकांत पाल ने विश्व रेडक्रॉस दिवस के अवसर पर आज वर्ष 2013 में आयी भीषण प्राकृतिक आपदा के दौरान सराहनीय कार्य करने वाले स्वयंसेवकों को सम्मानित किया।

यहां राजभवन में आयोजित एक सम्मान समारोह में राज्य में घटित दैवीय आपदा के दौरान बचाव एवं राहत कार्यों में विशिष्ट भूमिका निभाने वाले 26 सर्टिफाइड फर्स्ट मेडिकल रिस्पांडर, 63 ट्रेनर्स ऑफ ट्रेनी ऑफ फर्स्ट मेडिकल रिस्पांडर तथा 46 रेडक्रॉस स्वयंसेवकों को प्रमाण पत्र और ‘बैज आफ आनर’ देकर राज्यपाल ने सम्मानित किया।

राजभवन से जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, पाल ने भारतीय रेडक्रॉस सोसाइटी के विभिन्न स्तर के इन सभी स्वयंसेवकों के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि मानवता की सेवा के लिए रेडक्रॉस जैसी महान संस्था के सिद्घान्तों का निस्वार्थ व समर्पण भाव से अनुपालन कर इन्होंने समाज के सामने एक मिसाल कायम की है। रेडक्रॉस की भूमिका के परिप्रेक्ष्य में राज्यपाल ने कहा कि आपदा के बाद पैदा हुई स्थितियों में राहत और सहायता पहुँचाने के साथ ही यह भी जरूरी है कि संभावित आपदा से होने वाले नुकसान को कम से कम करने की पुख्ता व्यवस्थायें की जायें और इसके लिये जन सहभागिता और जनजागरूकता बहुत जरूरी है।

राज्यपाल ने सम्भावित आपदा से निबटने के लिए की गई तैयारियों के परीक्षण के लिए समय-समय पर पूर्वा5यास को आवश्यक बताया। इस मौके पर राज्यपाल ने यह भी बताया कि उत्तराखंड रेडक्रॉस सोसाइटी की ओर से नेपाल के भूकंप पीडितों की मदद के लिये एक लाख रूपये दिये जा रहे हैं।