हल्द्वानी : धार्मिक स्‍थल के बाहर गाली-गलौज के बाद ‌विवाद, जमकर हुई मारपीट

उत्तराखंड के नैनीताल जिले के हल्‍द्वानी शहर में धार्मिक स्‍थल के लिए दो समुदायों के युवकों के बीच उपजा विवाद इतना बड़ गया कि मौके पर जबरदस्त हंगामा हो गया।

हल्‍द्वानी‌ के जवाहर नगर क्षेत्र में मंगलवार देर शाम दो समुदायों के युवकों के बीच जमकर मारपीट हुई। आरोप है कि एक समुदाय के लोगों ने धारदार हथियारों से हमला किया, जिससे दो युवक घायल हो गए।

खबर मिलने पर पहुंची पुलिस ने घायलों को बेस अस्पताल में भर्ती कर एक हमलावर को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही मौके पर शांति व्यवस्था बनाए रखने को पुलिस तैनात कर दी गई है।

पुलिस के मुताबिक जवाहर नगर स्थित धार्मिक स्थल पर आयोजन चल रहा था। आरोप है कि इसी बीच दूसरे समुदाय का एक किशोर वहां पहुंचा और गाली-गलौज करने लगा। इस पर कुछ युवकों ने उसे डांट-फटकार कर भगा दिया।

बताया जा रहा है कि इसके कुछ देर बाद धारदार हथियारों से लैस चार-पांच युवक वहां पहुंचे और गाली-गलौज करने लगे। धार्मिक स्थल में मौजूद युवकों ने उन्हें समझाने की कोशिश की तो वे उनसे उलझ गए। मारपीट होने से जवाहर नगर निवासी विनोद सिंह और अनिल घायल हो गए।

मामला बिगड़ता देख किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। इससे पहले कि पुलिस मौके पर पहुंचती हमलावर फरार हो गए। सूचना पर पहुंचे सीओ राजेंद्र सिंह ह्यांकी, एसएसआई इंदर सिंह राणा, थानाध्यक्ष बनभूलपुरा भूपेंद्र सिंह बृजवाल, भोटिया पड़ाव चौकी इंचार्ज नंदन सिंह रावत ने मामले की जानकारी ली।

साथ ही घायल विनोद और अनिल को बेस अस्पताल में भर्ती कराया। बाद में पुलिस ने मारपीट के आरोपी युवक शादाब को गिरफ्तार कर लिया। सीओ ह्यांकी ने बताया कि मौके पर शांति व्यवस्था बनाए रखने को पुलिस तैनात कर दी है, जबकि हमलावर शादाब के अन्य साथियों की तलाश की जा रही है।

जवाहर नगर में युवकों के बीच हुई मारपीट के बाद मौके पर लोगों का जमावड़ा लग गया। आसपास रहने वाले लोग भीड़ को देख अपने घरों की खिड़कियों और छतों से देख रहे थे, जिस पर पुलिस ने इकट्ठा लोगों को वहां से हटाया।

जवाहर नगर में हुए विवाद के बाद आक्रोशित लोगों का कहना था कि मारपीट के केवल एक आरोपी को ही पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि उसके तीन-चार साथी अभी फरार हैं। बुधवार तक हमलावर अन्य युवकों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो सीओ का घेराव किया जाएगा।

विवाद के बाद बनभूलपुरा थाने में दोनों ही पक्षों के लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। ऐसे में दोबारा फिर कोई विवाद न हो, इसके लिए पुलिस ने इकट्ठा लोगों को थाने से खदेड़ दिया।

मारपीट के बाद हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने पुलिस प्रशासन से मामले के आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग की।