देहरादून पहुंचे अमित शाह बोले- ‘बीजेपी नहीं, कांग्रेस कॉरपोरेट घरानों से मिली हुई है’

देहरादून।… दुनिया की सबसे बड़ी राजनितिक पार्टी बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी नहीं बल्कि कांग्रेस कॉरपोरेट घरानों से मिली हुई है।

देहरादून में अपने एक दिवसीय दौरे पर पहुंचे शाह ने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कुछ मीडिया समूह सरकार के खिलाफ भ्रांति फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन सच यह है कि पिछले 11 महीने में सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा।

उन्होंने कहा, ‘हमें कहा जा रहा है कि हम कॉरपोरेट घरानों से मिले हुए हैं, जबकि सच बात यह है कि यूपीए सरकार के समय कोयले की खदानों के आवंटन के समय कॉरपोरेट घरानों को सीधा फायदा पहुंचाया गया। सारे कोल ब्लॉक महज 3000 करोड़ रुपये में आवंटित कर दिये गए, लेकिन हमने केवल 20 कोल ब्लॉक पारदर्शी तरीके से आवंटित कर दो लाख करोड़ रुपये खजाने में भर दिए।’

शाह ने आरोप लगाया, ‘क्या यह सच नहीं है कि सोनिया और मनमोहन सिंह ने मिलकर कॉरपोरेट घरानों से मिलकर उन्हें सीधा-सीधा फायदा पहुंचाया। 2जी स्पेक्टम में भी बड़ी गडबड़ी हुई, यह भी किसी से छुपी नहीं है।’ उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार ने 2जी स्पेक्टम का आवंटन कर केवल 8000 करोड़ रुपये कमाए लेकिन हमने एक तिहाई आवंटन में ही 1.9 लाख करोड़ सरकारी खजाने में डाल दिए।

बीजेपी अध्यक्ष ने दावा किया कि भूमि अध्याग्रहण विधेयक में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है, जिसके तहत कारपोरेट घरानों को किसानों की एक इंच भूमि भी दी जा सके। सरकार की नई मुद्रा बैंक योजना की तारीफ करते हुए शाह ने कहा कि इसके तहत 5000 से लेकर दस लाख रुपये तक का ऋण लोगों को दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि ‘जनधन योजना’ के तहत भी 14 करोड़ बैंक खाते खोले गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विदेशी दौरों का जिक्र करते हुए बीजेपी अध्यक्ष शाह ने कहा कि इससे दुनिया में देश का सम्मान बढ़ा है। उन्होंने कहा कि मेडिसन स्कवायर और संयुक्त राष्ट्र में हिंदी में भाषण देकर उन्होंने हर हिंदुस्तानी का दिल जीत लिया। उत्तराखंड में 2017 में होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारी के बारे में उन्होंने कहा, ‘हम गुजरात, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की तरह ऐसी सरकार बनाएंगे जो केवल पांच साल नहीं बल्कि लंबे समय तक मजबूती के साथ टिकी रहे।’

शाह ने यह भी कहा कि पार्टी ने ऐसी रणनीति तैयार की है जिसकी बदौलत वह आने वाले तीन दशकों तक सत्ता में बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी ने इसी दिशा में काम करते हुए हाल में दस करोड़ सदस्य संख्या का आंकडा पार किया है जो एक विश्व कीर्तिमान है। आने वाले समय में महासंपर्क अभियान छेड़ेंगे और उसके ठीक बाद अगस्त से अक्टूबर तक 15 लाख सक्रिय सदस्यों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के कथनानुसार अब सही मायने में बीजेपी ‘पार्टी विद अ डिफरेंस’ बनेगी।

पार्टी बैठक के दौरान, बीजेपी के पांचों लोकसभा सांसद भुवन चंद्र खंडूरी, भगत सिंह कोश्यारी, अजय टम्टा, रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ और माला राज्यलक्ष्मी शाह व विधायक एवं प्रदेश अध्यक्ष तीरथ सिंह रावत, राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय भट्ट सहित करीब 400 नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

इससे पहले, शाह दोपहर बाद देहरादून के निकट जौलीग्रांट हवाई अड्डे पहुंचे, जहां से वह सड़क मार्ग द्वारा देहरादून पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह उनके काफिले को रोककर शाह का स्वागत किया।