पौड़ी : बारातियों से भरी बोलेरो खाई में गिरी, 3 की मौत कई घायल

पौड़ी जिले के थैलीसैंण ब्लॉक में बूंगीधार-नागचूलाखाल मार्ग पर गुरुवार रात बारातियों से भरा वाहन खाई में जा गिरा। हादसे में कार में सवार दूल्हे के नाना और फूफा समेत तीन बारातियों की मौत हो गई, जबकि सात बाराती घायल हो गए।

प्रत्यक्षदर्शियों ने हादसे की वजह तेज रफ्तार बताई है। घायलों को फर्स्ट एड के बाद रामनगर रेफर कर दिया गया है। राजस्व पुलिस के अनुसार गुरुवार रात करीब साढ़े आठ बजे रामनगर से बारातियों को लेकर आ रही बोलेरो बूंगीधार के गड़ीगांव के पास खाई में जा गिरी। हादसा होते ही घायलों में चीखपुकार मच गई।

पीछे से आ रहे बारात के दूसरे वाहन में बैठे लोगों ने घायलों को खाई से निकालकर दूसरे वाहनों से थैलीसैंण और रामनगर अस्पताल पहुंचाया। दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल दूल्हे के नाना बालम सिंह (82) निवासी ग्राम मैंदोली, फूफा सैन सिंह (60) निवासी ग्राम भंडेली और प्रेमबल्लभ पंत (63) ग्राम पजेड़ा थैलीसैंण ने दम तोड़ दिया।

थलीसैण के प्रभारी तहसीलदार अबरार अहमद ने बताया कि थैलीसैंण के गडसारी निवासी बचन सिंह पटवाल के बेटे संजय की रिक्साल गांव निवासी मान सिंह की बेटी सरोज के साथ शादी होनी थी। बारात रामनगर से रिक्साल आ रही थी कि बोलेरो दुर्घटनाग्रस्त हो गई।

घायलों में ड्राइवर और मालिक शंकर सिंह निवासी ग्राम गडसारी थैलीसैंण, खुशाल सिंह निवासी ग्राम खलधार, दरबान सिंह निवासी ग्राम मैंदोली, दलीप सिंह निवासी ग्राम कुणझोली, बचे सिंह निवासी ग्राम कांडई, महेशी देवी निवासी ग्राम चमाली थैलीसैंण जिला पौड़ी गढ़वाल घायल हो गए। वे अन्य वाहनों से रामनगर चले गए हैं।

तहसीलदार ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर पौड़ी से पहुंची मेडिकल टीम ने तीनों मृतकों के शवों का थैलीसैंण अस्पताल में पोस्टमार्टम कर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिए हैं। क्षेत्रीय विधायक गणेश गोदियाल ने हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए सहायता का भरोसा दिलाया। एसडीएम थैलीसैंण मायादत्त जोशी ने घटनास्थल का मुआयना कर घायलों का हालचाल जाना।