बिजली-पानी के लिए और ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी जेब, मनोरंजन टैक्स भी बढ़ेगा

नए वित्तीय वर्ष में बिजली और पानी के दाम तो बढ़ेंगे ही मौज-मस्ती और मनोरंजन भी महंगा हो जाएगा। अप्रैल की पहली तारीख से नई दरें लागू हो जाएंगी। राज्य के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी साफ कर दिया है कि घरों तक पानी पहुंचाने में संसाधन लगते हैं, ऐसे में दरों में बढ़ोतरी करना उनके लिए मजबूरी है।
[manual_related_posts]

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मोहनी रोड पर मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा कि केंद्र सरकार से मदद न मिलने के कारण राज्य सरकार को फिर से सिस्टम तैयार करना पड़ रहा है। हरीश रावत ने कहा कि उत्तराखंड में लोगों को हर राज्य से सस्ती बिजली दी जा रही थी। अब नियामक आयोग नई विद्युत दरें तय करेगा।

नए वित्तीय वर्ष से देशी और विदेशी शराब भी महंगी हो जाएगी। इस बार आबकारी विभाग का टैक्स वसूली का लक्ष्य दोगुना कर दिया गया है। पिछले साल सरकार ने विभाग को 1400 करोड़ का लक्ष्य दिया था। इस बार यह लक्ष्य 1800 करोड़ है। इसके अलावा अवैध बार चलाने वालों से दोगुना जुर्माना भी वसूला जाएगा।

मौज-मस्ती और मनोरंजन भी अब लोगों को महंगा पड़ेगा। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन, मेला आदि पर 10 प्रतिशत मनोरंजन कर बढ़ाया जाएगा। इसके साथ ही केबल चलाने वालों पर भी बढ़ा हुआ टैक्स लागू होगा। एंटरटेनमेंट टैक्स प्रभारी मोहन सिंह बर्नियो ने बताया कि नए वित्तीय वर्ष में बढ़ा हुआ टैक्स लिया जाएगा।