शिक्षामंत्री नैथानी का बछड़ा गायब, फोटो लेकर तलाश रही है पुलिस

पिछले साल उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री आजम खान की भैंसों का खोना राष्ट्रीय खबर बन गई थी। भैंसों को खोजने में पुलिस को लगाना पड़ा था, अब उत्तराखंड के शिक्षामंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी भी आजम की राह पर हैं। नैथानी का बछड़ा गायब हो गया है। मंत्री की तरफ से शिकायत नहीं मिलने का दावा करने वाली पुलिस बछड़े की तलाश में दिनभर लगी रही।
इस बीच मंत्री के ओएसडी ने बछड़े के गोकशी करने वालों के हत्थे चढ़ने की आशंका जताई है। बछड़े को खोजने के लिए पुलिस व्हाट्स एप की मदद ले रही है। बछड़े के हुलिए के आधार पर उसे खोजने की कोशिश की जा रही है।

 

कैंट क्षेत्र की यमुना कॉलोनी में रहने वाले शिक्षामंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी की गाय का बछड़ा दो दिन पहले घर से निकलकर एक गड्ढे में गिर गया था, जिस कारण उसे चोटें आ गई थीं। मुंह सूजने के कारण वह चारा नहीं खा पा रहा था। शुक्रवार सुबह छह बजे बछड़े को घास खाने के लिए बाहर छोड़ दिया गया।

 

आठ बजे के करीब वह गायब हो गया तो उसकी खोजबीन शुरू हुई। मंत्री के ओएसडी इंद्रभूषण बडोनी की सूचना पर पुलिस खोजबीन जुटी। पुलिस उपाधीक्षक नगर मनोज कत्याल और इंस्पेक्टर हरीश मेहरा ने मंत्री के आवास पहुंचकर बछड़े के हुलिए की जानकारी ली।

 

सूत्रों के अनुसार गायब बछड़े के फोटो को आसपास के थानों की पुलिस को भेजा गया। शनिवार को भी दिनभर गायब बछड़े के बारे में पुलिस अधिकारी अपडेट लेते रहे। हालांकि, शिकायत न मिलने के कारण मुकदमा दर्ज नहीं हो सका है। उधर, मंत्री के ओएसडी बड़ोनी ने शनिवार को आशंका जताई कि क्षेत्र में गोकशी करने वाला कोई गिरोह सक्रिय है, जिसने बछड़े को उठा लिया है।

 

शिक्षा मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी के परिजनों ने बछड़े का नाम चुलबुल पांडेय रखा हुआ है। बताते हैं कि परिजनों ने गाय के दोनों बछड़ों का नामकरण किया है।