पति की गंदी करतूत छिपाने के लिए महिला ने लगाया गैंगरेप का झूठा आरोप

रुड़की में एक महिला ने आरोप लगाया था कि 6 लोगों ने उनके घर में घुसकर उसके साथ गैंगरेप किया। लेकिन जांच में उसके ये आरोप झूठे निकले। महिला ने पति पर केस दर्ज कराने वाले पैरोकारों पर दबाव बनाने के लिए झूठी कहानी बनाई थी।
[manual_related_posts]

महिला के पति पर रिश्ते में भांजी के साथ रेप करने के आरोप में मुकदमा दर्ज है। आरोपी महिला ने पैरोकारों पर मुकदमा वापस लेने के लिए धमकी भी दी थी। पुलिस ने महिला के खिलाफ पति को बचाने और रेप में उसका सहयोग करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है।

मंगलवार देर शाम गंगनहर कोतवाली क्षेत्र की एक महिला ने 6 लोगों पर गैंगरेप का आरोप लगाया था। आरोपियों में एक गांव का पूर्व प्रधान भी शामिल बताया गया। कोतवाली प्रभारी दिनेश भंडारी ने बताया कि पुलिस की जांच में मामला फर्जी निकला। पुलिस अधिकारी ने बताया कि करीब एक महीने पहले इस महिला के पति के खिलाफ रेप का केस दर्ज हुआ था। आरोप लगाने वाली कोई और नहीं उसकी रिश्ते की भांजी थी।

इस मामले में कुछ लोगों ने पीड़ित युवती की तरफ से मुकदमा दर्ज कराने में पैरोकारी की थी। पीड़ित युवती के बयान मंगलवार को ही दर्ज कराए गए थे। गंगनहर कोतवाली प्रभारी डीएस भंडारी ने बताया कि महिला अपने पति पर दर्ज मुकदमे में पैरोकारी करने वालों को धमकी दे रही थी।

महिला ने पैरोकारियों पर झूठा आरोप लगाकर पति पर दर्ज मुकदमा वापस लेने के लिए ही पूरी कहानी तैयार की थी। इंस्पेक्टर भंडारी ने बताया कि पुलिस ने अब पति पर दर्ज रेप के मामले में ही पत्नी का भी नाम शामिल कर उसे जेल भेज भिज दिया है। भांजी से रेप करने वाला आरोपी फरार है।