कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का PM मोदी के खिलाफ विवादास्पद बयान, बवाल

उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ दिए विवादस्पद बयान से राजनीति में बवाल मच गया है। उपाध्याय का कहना है कि प्रधानमंत्री को न तो अपनी मां की चिंता है और न ही गंगा मां की। यही नहीं राज्य की उपेक्षा के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस पीएम का पुतला फूंकने की तैयारी कर रही है। कांग्रेस अध्यक्ष के विवादित बयान को लेकर बीजेपी ने विधानसभा और बाहर भी कड़ी प्रतिक्रिया जताई है।
[manual_related_posts]

प्रदेश अध्यक्ष ने मंगलवार को बयान दिया था कि मोदी ने गंगा को धोखा दिया है। अगर कहीं उनकी मां की मृत्यु हुई (भगवान उन्हें शतायु रखे) और वे अस्थियां लेकर हरिद्वार पहुंचे, तो गंगा उनकी अस्थियां अस्वीकार कर देंगी।

नेता प्रतिपक्ष अजय भट्ट ने विधानसभा में कहा कि किशोर उपाध्याय ने प्रधानमंत्री की मां के लिए अभद्र टिप्पणी की है। किसी राजनीतिक दल के प्रदेश अध्यक्ष का यह कथन पूरे राज्य के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है।

बीजेपी की नाराजगी पर उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं को अपनी मां से अधिक पीएम की मां की चिंता है. जबकि पीएम ने न तो अपने शपथ ग्रहण समारोह में मां को बुलाया और न ही उन्हें दिल्ली में अपने साथ रखते हैं। उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने कुछ भी गलत नहीं कहा है। गंगा उत्तराखंड की पुत्री हैं और मोदी ने गंगा रक्षा का आह्वान कर सत्ता हासिल की है। झूठ बोल गंगा की दुर्दशा सुधारने को लेकर वह राज्य की उपेक्षा कर रहे हैं। जब गंगा में पानी ही नहीं रहेगा तो उनकी मां की अस्थियां तो अस्वीकार होंगी ही।’

प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष तीरथ सिंह रावत का कहना है कि कांग्रेस अध्यक्ष का बयान घृणित मानसिकता का परिचायक है। उन्होंने दिमागी संतुलन खो दिया है। इसके लिए कांग्रेस को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।