फटा पोस्टर निकला ‘अनोखेलाल’

आज हम हमारे पाठकों के लिए अपने बहुचर्चित ‘अनोखेलाल’ की श्रृंखला लेकर हाज़िर हुए हैं. जो बच्चों को बहुत गुदगुदाएगी और बड़ों को कई तरीकों की सीख भी दे जाएगी. अनोखेलाल बिल्कुल हम जैसे हैं लेकिन अपने भावुक और हास्य से भरे व्यवहार से हमको कुछ न कुछ पाठ पढ़ा ही देते हैं.

इस श्रृंखला में हम हर शुक्रवार एक नया सन्देश लेकर हजिर होंगे, जिसका आनंद आप सप्ताह अंत में उठा पाएंगे. तो लीजिये पेश हैं ‘अनोखेलाल’

anokhe-Cycle
कार्टूनिस्ट का परिचय –
कार्टूनिस्ट आशीष नगरकर महाराष्ट्र के नासिक शहर से हैं. इन्होने बी. फार्मेसी की पढ़ाई की है और एक बहुराष्ट्रीय फार्मा कंपनी में बतौर मैनेजर कार्यरत हैं. इनको बचपन से ही कार्टून बनाने का शौक रहा है और अपने इसी हुनर को इन्होने अनेक समाचारपत्र, पत्रिकाओं के माध्यम से समय-समय पर लोगों तक पहुंचाया भी है. जिनमें से स्वदेश, देशबंधु, पाञ्चजन्य, नेशनल मेल, चकमक, संदर्भ, सकाळ आदि प्रमुख हैं. अब नगरकर अपने अनोखेलाल के साथ उत्तरांचल टुडे से जुड़े हैं.