अब सोनिया गांधी ही तय करेंगी राज्यसभा उम्मीदवार का नाम

उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद मनोरमा डोबरियाल शर्मा के निधन के बाद खाली हुई सीट पर उम्मीदवार का फैसला कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ही लेंगी. हालांकि, एक के बाद एक नेता इसके लिए अपनी-अपनी दावेदारी ठोक रहे हैं. लेकिन अब मुख्यमंत्री हरीश रावत ने दिल्ली में सोनिया से मुलाकात करके राज्य कांग्रेस की ओर से उन्हें उम्मीदवार के नाम का फैसला करने के लिए अधिकृत कर दिया है.

मुख्यमंत्री ने बताया कि इससे पहले मेत्रिमंडल की बैठक में भी इस बात पर सहमति बन गई थी कि उम्मीदवार कांग्रेस अध्यक्ष ही तय करेंगी. शनिवार को मुख्यमंत्री अकेले ही सोनिया गांधी से मिलने उनके आवास पहुंचे थे. खबरों के अनुसार सोनिया ने मुख्यमंत्री से कुछ सम्भावितों के नाम मांगे थे. लेकिन रावन ने साफ कर दिया कि कांग्रेस अध्यक्ष जो फैसला लेंगी, उत्तराखंड कांग्रेस को वो स्वीकार होगा.

गौरतलब है कि राज्यसभा की उम्मीदवारी के लिए नामांकन दस मार्च तक होने हैं. जैसे-जैसे नॉमिनेशन की अंतिम तिथि नजदीक आ रही है वैसे-वैसे उम्मीदवारी की आस लगाए बैठे नेताओं का जमावड़ा भी दिल्ली में ही बढ़ेगा. उम्मीद है कि कांग्रेस अध्यक्ष रविवार 8 मार्च को पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार की घोषणा कर सकती हैं. पिछली बार भी फिर मनोरमा डोबरियाल शर्मा का नाम दस जनपथ से ही आया था, जिस पर मुख्यमंत्री ने हामी भरी थी.

[manual_related_posts]
प्रदेश कांग्रेस कमेटी की पूर्व महामंत्री व राज्य महिला आयोग की पहली अध्यक्ष रही कांग्रेस नेता डा. संतोष चौहान ने भी पार्टी हाईकमान को चिट्ठी भेजकर मांग की है कि खाली हुई राज्यसभा की सीट पर उन्हें उम्मीदवार घोष‍ित किया जाए.

महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें समय से पहले मनोरमा शर्मा डोबरियाल के निधन पर दुख है. खाली हुई इस सीट पर उनके नाम पर विचार किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा, इस समय भी राज्यसभा में उत्तराखंड से जो सांसद हैं वो सभी पुरुष हैं. उन्होंने कहा, वह लंबे समय से पार्टी की सेवा कर रही हूं, इसलिए उन्हें पार्टी का उम्मीदवार बना जाए.

संतोष ने बताया कि इस मामले में कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रदेश की प्रभारी अम्बिका सोनी, मुख्यमंत्री हरीश रावत व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को पत्र भेजा है और एक महिला प्रतिनिधिमंडल के साथ इन सभी से मुलाकात भी करनी है.

उधर पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के नाम भी उनके समर्थक उछाल रहे हैं. इनके अलावा राज्य के कई अन्य नेता भी राज्यसभा की इस एक खाली सीट पर अपनी-अपनी उम्मीदवारी जता रहे हैं.