राज्यसभा सीट के लिए, कांग्रेस में एक अनार-सौ बीमार जैसा हाल

उत्तराखंड कांग्रेस के नेताओं के बीच मनोरमा डोबरियाल शर्मा के निधन के बाद खाली हुई राज्यसभा सीट पर घमासान जारी है. किसी एक नाम पर सहमति नहीं बन पा रही है. ऐसे में आशंका यह भी है कि स्थानीय नेता की बजाय किसी बाहरी नेता के पास यह उम्मीदवारी ना चली जाए.

हालांकि राज्य कांग्रेस के नेता इस बात के लिए तो कमर कस रहे हैं कि उम्मीवार बाहरी ना हो, लेकिन एक सर्वमान्य उम्मीदवार तय नहीं कर पा रहे. लेकिन दिल्ली के कांग्रेस मुख्यालय में उत्तराखंड की इस राज्यसभा सीट के लिए पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम और बॉलीवुड अभ‍िनेता राज बब्बर का नाम भी चल रहा है.

उत्तराखंड कांग्रेस में क्षेत्रीय और जातीय संतुलन की राजनीति बरसों पुरानी है और अलग-अलग दावेदार उसी को आधार बनाकर अपना-अपना गण‍ित भी बिठा रहे हैं. बुधवार को उधमसिंह नगर जिले में गदरपुर से जुड़ी कांग्रेस नेता श‍िल्पी अरोड़ा ने भी राज्यसभा की उम्मीदवारी पर अपना दावा जता दिया है. उत्तराखंड कांग्रेस में इस समय स्थ‍िति एक अनार सौ बीमार वाली है.

श‍िल्पी ने मुख्यमंती हरीश रावत और प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय से मिलकर अपनी उम्मीदवारी पेश की और दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मिलने का वक्त मांगा है. गुरुवार को मुख्यमंत्री व प्रदेश अध्यक्ष की सोनिया गांधी से मुलाकात होनी है और इस बारे में चर्चा जरूर होगी.

वैसे बता दें कि हरीश रावत और उपाध्याय ने उम्मीदवार तय करन का फैसला सोनिया पर छोड़ रखा है. उधर उम्मीवारी पेश करने वाले दूसरे नेता धीरेंद्र प्रताप ने भी सोनिया से मिलने का समय मांगा है. उधर गढ़वाल अंचल के ब्राह्मण नेता एक बार फिर सक्रिय हो गए हैं. उनता तर्क है कि कुमाऊं अंचल से महेंद्र सिंह माहरा पहले से ही राज्यसभा में मौजूद हैं. उनका कहना है कि मनोरमा डोबरियाल की उम्मीदवारी से दोनों क्षेत्रों के बीच संतुलन बन गया था, इसलिए खाली सीट किसी गढ़वाली ब्राह्मण नेता को मिलनी चाहिए.

फिलहाल पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा और प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के समर्थक उनके नाम की घोषणा करने के लिए अभ‍ियान चला रहे हैं. धीरेंद्र प्रताप ने खुद अपना नाम आगे किया है और कांग्रेव प्रवक्ता व समाजिक कार्यकर्ता श‍िल्पी अरोड़ा ने भी अपना दावा खुद ही ठोका है. श‍िल्पी का कहना है कि उनकी उम्मीवारी से राज्य में मातृ शक्ति और खासकर युवा महिलाओं का उत्साह बढ़ेगा.