बजट के बाद पेट्रोल-डीजल ने दिया झटका, 3 रुपये से ज्यादा की बढ़ोतरी

लो जी, एक ही दिन में दो-दो झटके. अब बताओ कैसा महसूस हो रहा है. पहले तो बजट में ऐसा कुछ मिला नहीं, जिसकी उम्मीद सभी को थी, ऊपर से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के जरिए दोहरा झटका आम व्यक्ति को लगा है. पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बड़ी बढ़ोतरी की गई है और यह बढ़ी हुई कीमतें रविवार 1 मार्च से लागू हो जाएंगी.

पेट्रोल की कीमतों में एकमुश्त 3.18 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमतों में 3.09 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी कर दी गई है. माना ये भी जा रहा है कि सरकार तेल कीमतों में अभी और बढ़ोतरी करेगी. शनिवार को ही वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में 2015-16 का आम बजट पेश किया. इसमें सिगरेट, रेस्टोरेंट में खाना, गुटखा, मोबाइल व अन्य रोजमर्रा की चीजों पर महंगी कर दी गई हैं.

अभी लोग हिसाब-किताब लगा ही रहे थे कि इस साल अप्रैल से कौन-कौन सी चीजें महंगी हो जाएंगी. और इसका उनके बजट पर क्या असर पड़ेगा, लेकिन शाम होते-होते उन्हें एक और जोरदार झटका पेट्रोलियम कंपनियों ने दिया.

बढ़ी हुई कीमतें 1 मार्च से लागू हो जाएंगी. उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून में पेट्रोल के दाम अब तक 60.28 रुपये प्रति लीटर थे, जबकि डीजल की कीमतें 51.45 रुपये प्रति लीटर थे. रविवार एक मार्च से बढ़ी हुई कीमतें लागू होने पर देहरादून में पेट्रोल 63.46 रुपये प्रति लीटर और डीजल 54.54 रुपये प्रति लीटर हो जाएगा.

देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 60.49 रुपये और डीजल की कीमत 49.71 रुपये हो जाएगा. सरकार ने करीब 15 दिन पहले भी पेट्रोल और डीजल की कीमत में लगभग 60 पैसे की बढ़ोतरी की थी.