इस साल अप्रैल से मिलेगी उत्तराखंड के पूर्व अंतरराष्ट्रीय ख‍िलाड़‍ियों को पेंशन

उत्तराखंड के भूतपूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के लिए घोषित पेंशन योजना की शुरुआत इस साल अप्रैल महीने से होगी. इसके लिए प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आवेदन मंगावाए जाएंगे.

नवंबर 2013 में खेल मंत्री दिनेश अग्रवाल ने राज्य के भूतपूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के लिए पं. गोविंद बल्लभ पंत पेंशन योजना शुरू करने की घोषणा की थी. इसे जनवरी 2014 में शुरू होना था, लेकिन सरकार में बार-बार फाइल अटकने और योजना में कमियां निकलने से खेल विभाग योजना समय पर लागू नहीं करा पाया.

शुरुआत में सबसे पहले इसमें खिलाड़ियों की उम्र और मासिक आय को लेकर विभाग असमंजस में था. बाद में इसे खेल नीति में शामिल करने का हवाला देकर रोक दिया गया. खेल नीति में दो वर्गों में पेंशन देने की योजना है.

इसमें 50 साल से अधिक उम्र के ऐसे पूर्व खिलाड़ियों को पेंशन देने का जिक्र हैं, जो कहीं भी नौकरी नहीं कर रहे हों या कमाई का जरिया न हो. अप्रैल से नया वित्तीय वर्ष शुरू होता है और इसके बाद ही पेंशन योजना भी शुरू होगी. विस्तृत प्रस्ताव सरकार को भेजा जाएगा. इसके बाद विज्ञप्ति निकालकर आवेदन मंगवाए जाएंगे.