‘स्वर्ग’ में बीजेपी-पीडीपी सरकार, 1 मार्च को शपथ लेंगे मुफ्ती मोहम्मद सईद

जम्मू-कश्मीर में दो महीने से चले रहे स‌ियासी ड्रामे का आख‍िरकार मंगलवार को अंत हो ही गया. मंगलवार को इसी संबंध में बातचीत करने पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मिलने दिल्ली पहुंचीं थीं. दोनों नेताओं के बीच बातचीत काफी लंबी चली, बातचीत के बाद दोनों दलों की कॉमन मिनिमम प्रोग्राम (सीएमपी) पर सहमत‌ि बन गई है.

मुलाकात के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि पीडीपी के साथ जो भी गतिरोध था वह अब खत्म हो गया है. जम्मू-कश्मीर में एक लोकप्रिय सरकार बनने जा रही है. बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि कॉमन एजेंडे पर बात हुई है. उधर, महबूबा मुफ्ती ने कहा कि दोनों दलों की गठबंधन सरकार एक विकासपरक सरकार होगी.

पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मीडिया से कहा क‌ि बीजेपी-पीडीपी गठबंधन देशहित में हुआ है. बीजेपी-पीडीपी के गठबंधन से बन रही सरकार जम्मू कश्मीर के लोगों के हित में है. महबूबा ने कहा, ‘ये सरकार सिर्फ पावर शेयरिंग के लिए नहीं, बल्कि ये सरकार राज्य के लोगों के दिल को जीतने के लिए काम करेगी.’

मीडिया से मुखातिब होते हुए अमित शाह ने कहा, अब जल्द ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुफ्ती मोहम्मद सईद की मुलाकात होगी. इस दौरान दोनों नेता बातचीत के आधार पर गठबंधन के एजेंडे को अंतिम स्वरूप देंगे. बाद में उस एजेंडे को ‘एजेंडा फॉर एलायंस’ नाम से राज्य व देश की जनता के लिए जारी किया जाएगा.

1 मार्च को पूर्व केंद्रीय गृहमंत्री और पीडीपी के संस्थापक मुफ्ती मोहम्मद सईद को श्रीनगर में मुख्यमंत्री पद शपथ दिलाई जाएगी. इसके अलावा पीडीपी और बीजेपी के 6-6 मंत्रियों को भी शपथ दिलाई जाएगी. दोनों दलों के बीच उप-मुख्यमंत्री बीजेपी को देने पर भी सहमति बन गई है.

दिसंबर 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में पीडीपी को 87 सदस्यीय विधानसभा में 28 सीटें मिली थीं और वह सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी, जबकि बीजेपी 25 सीटें जीतकर दूसरे नंबर पर रही.