MDDA के इस कदम से देहरादून में फ्लैटों के दाम घटने तय

मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण (MDDA) के प्रस्ताव को मंजूरी मिली तो उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून में आसमान छू रहे फ्लैटों के दाम जमीन पर आ जाएंगे.

एमडीडीए ने आवासीय इमारतों की ऊंचाई 21 से बढ़ाकर 30 मीटर करने का प्रस्ताव सरकार को भेज दिया है. प्रस्ताव मंजूर हुआ तो किसी भी हाउसिंग प्रोजेक्ट में फ्लैटों की संख्या बढ़ेगी, जिसके बाद माना जा रहा है कि कीमतों का घटना भी तय ही है.

मौजूदा नियम के कारण फिलहाल किसी भी प्रोजेक्ट में अधिकतम चार-पांच फ्लोर ही बन पाते हैं. मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष आर. मीनाक्षी सुंदरम ने बताया सरकार को इस मामले में प्रस्ताव भेज दिया गया है.

हालांकि देहरादून में आवासीय इमारतों के लिए 21 मीटर ऊंचाई का नियम तय है, लेकिन शहर में इस नियम का खुलेआम उल्लंघन हो रहा है. इसमें ज्यादातर व्यवसायिक इमारतें शामिल हैं. इन मामलों में ऊपरी दबाव इतना ज्यादा होता है कि एमडीडीए चाहकर भी इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं कर पाता.