संसद का बजट सत्र शुरू, सरकार का मंत्र- ‘सबका साथ-सबका विकास’: राष्ट्रपति

सोमवार सुबह से ससंद का बजट सत्र शुरू हो गया है. सत्र की शुरुआत राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के अभिभाषण से हुई. राष्ट्रपति ने अपने अभ‍िभाषण में कहा कि ‘स्मार्ट सिटी’ और ‘स्वच्छ भारत’ पर सरकार ने काम शुरू कर दिया है. उन्होंने कहा ‘सबका साथ, सबका विकास’ ही केंद्र सरकार का मंत्र है.

राष्ट्रपति ने कहा, उन्हें उम्मीद है कि सरकार बजट सत्र में सकरात्मक काम की ओर कदम बढ़ाएगी. महंगाई को काबू करना सरकार की प्राथमिकता है. राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार की प्राथमिकताओं में शिक्षा एक अहम मुद्दा है. सरकार ‘पढ़े भारत, बढ़े भारत’ की योजना पर काम करेगी. ‘राष्ट्रीय गोकुल मिशन लॉन्च’ किया गया.

फूड प्रोसेसिंग में रोजगार की काफी संभावनाएं हैं. एक ओर समाजसेवी अन्ना हजारे भूमि अध‍िग्रहण बिल के ख‍िलाफ सोमवार से दिल्ली के जंतर-मंतर पर 2 दिवसीय का धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं और दूसरी ओर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने इसकी तारीफ की है. राष्ट्रपति ने कहा कि यह बिल किसानों के लिए फायदेमंद है. सरकार ने गांवों के विकास के लिए ‘आदर्श ग्राम योजना’ शुरू की.

‘टीम इंडिया के कॉन्सेप्ट पर जोर’
प्रणब मुखर्जी ने अपने अभ‍िभाषण में कहा कि ‘फूड पार्क’ के लिए दो हजार करोड़ रुपये की योजना है. लोगों में हुनर बढ़ाने पर जोर दिया जाएगा, क्योंकि हुनर है तो कल्याण है. केंद्र और राज्य टीम इंडिया है. सुशासन और सुधार टीम इंडिया की जरूरत है. ‘मेक इन इंडिया’ से रोजगार बढ़ेंगे. निर्माण, रेलवे, रक्षा में विदेशी निवेश को प्रोत्साहन दिया गया. महंगाई सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई है. कालाधन रोकने के लिए कदम उठाए गए. गरीबों के विकास पर ध्यान दिया गया. आर्थिक विकास के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर पर जोर देना जरूरी है. कारोबार की आसानी के लिए सिंगल विंडो व्यवस्था की गई. महिला सुरक्षा के लिए ‘हिम्मत एप’ लॉन्च की गई.

‘कानूनों का ढेर कम करेगी सरकार’
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अपने अभिभाषण में आगे कहा कि सरकार ने स्किल बढ़ाने के लिए एक अलग मंत्रालय बनाया है. हाउसिंग सेक्टर के लिए एफडीआई लाई गई. सरकार ने मिशन ‘इंद्रधनुष’ लॉन्च किया. हुनर बढ़ाने के लिए पीपीपी योजना लागू की गई है. बेकार पड़ चुके कानूनों के बारे में राष्ट्रपति मुखर्जी ने कहा कि सरकार बेकार कानूनों को खत्म करेगी. कानून व्यवस्था बेहतर बनाने के लिए काम किया जाएगा. महिला सुरक्षा पर भी महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं.

‘स्वच्छ भारत-स्वच्छ स्कूल’- स्कूलों में होगी शौचालय की व्यवस्था’
प्रणब दा ने कहा कि सरकार की कोशिश सभी स्कूलों में जल्द से जल्द शौचालयों की सुविधा मुहैया कराना है. गांव-गांव को बिजली से जोड़ने की स्कीम पर भी काम किया जाएगा. उन्होंने कहा, गैर पारंपरिक ऊर्जा के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. बिजली उत्पादन के लिए भी सरकार काम करेगी. खनिजों के खनन पर भी सरकार ध्यान देगी. गंगा भारत के लिए काफी महत्वपूर्ण है. उन्होंने बताया कि गंगा नदी की सफाई के लिए दो हजार करोड़ रुपये का बजट रखा गया है. सरकार इस पर भी काम करेगी. हाईस्पीड ट्रेन के लिए भी रिपोर्ट तैयार कर ली गई है. विदेशी पर्यटकों के लिए वीजा ऑन अराइवल की व्यवस्था लागू की गई.

पीएम मोदी ने सभी दलों से सहयोग की उम्मीद जतायी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बजट सत्र शुरू होने से पहले कहा, ‘रविवार को मैं सभी दलों के नेताओं से मिला था. मैंने सबकी बात सुनने की कोश‍िश की. हमारी कोशिश हर महत्वपूर्ण मुद्दे पर चर्चा करना रहेगी. यह देश और सरकार के लिए महत्वपूर्ण अवसर है, हर आदमी की आकांक्षा पूरा करने की कोश‍िश करेंगे. मुझे उम्मीद है इस सत्र में सभी का सहयोग मिलेगा.’