बेटे की शराब की लत से परेशान मां ने जहर पीकर दी अपनी जान

रानीखेत।… कलयुगी बेटों के कारनामे तो अक्सर सुनने को मिलते ही हैं. एक और कारनामा एक और कलयुगी बेटे के नाम जुड़ गया है. बेटे को शराब के नशे में देख मां इस हद तक आहत हुई कि उसने अपनी ही जान ले ली. हालांकि मां को गंभीर हालत में अस्पताल भी ले जाया गया, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही वह दम तोड़ चुकी थी. पुलिस के मुताबिक डॉक्टरी जांच रिपोर्ट में विषपान की बात सामने आई है.

यह मामला अल्मोड़ा जिले में ताड़ीखेत ब्लॉक के डढोली गांव का है. 67 वर्षीय वृद्ध सरस्वती देवी पत्‍‌नी मोहन चंद्र तिवारी ने संदिग्ध हालात में विषपान कर लिया. उसके पति भूतपूर्व सैनिक हैं, लिहाजा उसे गंभीर हालत में तत्काल मिलिट्री अस्पताल पहुंचाया गया. लेकिन तब तक बुजुर्ग महिला दम तोड़ चुकी थी. कोतवाली पुलिस ने शव कब्जे में लेने के बाद पोस्टमार्टम कराया.

सब इंस्पेक्टर धीरेंद्र पंत ने शुरुआती जांच का हवाला देते हुए बताया कि महाशिवरात्रि की शाम महिला का बेटा शराब पीकर घर आया. इस पर सरस्वती देवी बेहद आहत हुई. इसी बात पर मां-बेटे में तीखी तकरार भी हुई. एसआइ के मुताबिक शुरुआती जांच में शराब को लेकर हुई कहासुनी के बाद बुजुर्ग महिला के आत्मघाती कदम उठाने की बात सामने आई है. उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया गया है. डॉक्टरी जांच रिपोर्ट में प्रथम दृष्टया विषपान से मौत की पुष्टि हुई है.