आपकी पहचान का ‘आधार’, डाकियों ने रद्दी में यूं ही बेच डाला बेकार

काशीपुर।… लोगों ने अपना कीमती समय निकालकर और घंटों लाइन में लगकर आधार कार्ड बनवाए और अब भी कई जगह लोग इसके लिए परेशान हैं. सरकार ने भी आधार कार्ड को डीबीटीएल सहित अन्य योजनाओं से जोड़ दिया है. लेकिन सरकारी एजेंसियों की ना सिर्फ लापरवाही, बल्कि भ्रष्ट आदतें इस योजना पर भी पलीता लगा रही है. इस सरकारी मुहिम को कैसे पलीता लगाया जा रहा है इसका उदाहरण उधमसिंह नगर जिले के काशीपुर शहर में दिख रहा है.

यहां एक एक्सीडेंट की घटना ने आधार कार्ड से जुड़े भ्रष्टाचार की पोल खोल दी. दरअसल शहर में एक सड़क हादसे में पलटे रद्दी भरे ट्रक में बोरों में भरे सैकड़ों आधार कार्ड मिलने से इस माामले का खुलासा हुआ है, इतनी संख्या में आधार कार्ड रद्दी में देखकर अधिकारी भी हैरत में हैं. ये आधारकार्ड गुड़गांव में बने हैं. आशंका जताई जा रही है कि वहां के डाककर्मियों ने इन आधारकार्डों को लोगों को बांटने के बजाय रद्दी में बेच दिया होगा.

हालांकि, मामले की जांच करने पुलिस गुड़गांव जाएगी. बताया जा रहा है कि इस रद्दी में दिल्ली पुलिस की फाइलें तथा बीएसएनएल के महत्वपूर्ण दस्तावेज भी मिले हैं.