लाखों खर्च करके महीनों में बनी सड़क और सिर्फ 2 महीने में खस्ताहाल

हरिद्वार।… भुरना गांव में लाखों रुपये की लागत से बनी सड़क दो महीने भी नहीं चल सकी तथा जगह-जगह से टूटने लगी है. ग्रामीणों ने सड़क निर्माण में धांधली का आरोप लगाते हुए जेएम को शिकायत की है.

क्षेत्र के भुरना गांव के ग्रामीणों ने जेएम को शिकायत कर बताया कि उनके गांव में मंदिर से लेकर भुरनी रोड तक और भरना से ढाढेकी मार्ग तक करीब 36 लाख रुपये की लागत से सड़क निर्माण कराया गया. ग्रामीणों का आरोप है कि ठेकेदार ने पुरानी सड़क को जेसीबी से उखड़वाकर मोटा पत्थर डालकर और बहुत कम मात्रा में तारकोल मिली बजरी डालकर सड़क बना दी. साथ ही सड़क किनारे ईट नहीं लगाई गई.

ग्रामीणों के अनुसार मानकों के अनुसार न बनने पर सड़क टूटनी शुरू हो गई तथा निर्माण के कुछ समय बाद ही जगह-जगह से उखड़ना शुरू हो गई है. इस संबंध में जेई को शिकायत करने पर भी ध्यान नहीं दिया गया. ग्रामीणों ने अब जेएम को शिकायत कर सड़क निर्माण की जांच कर कार्रवाई की मांग की है.