शराब पीकर आए दूल्हे की बारात को दुल्हन ने बैरंग लौटाया

बेरीनाग।… पिथौरागढ़ जिले के एक गांव में दुल्हन ने शराबी दूल्हे के साथ शादी करने से मना कर दिया और बारात बैरंग लौटा दी. दुल्हन ने नशे में धुत सेहरा बांधकर आए दूल्हे के साथ सात फेरे लेने से साफ इनकार कर दिया. पूरी रात दुल्हन को समझाने, बुझाने की कोश‍िशें जारी रहीं, राजस्व पुलिस के हस्तक्षेप के बाद भी जब मामला नहीं सुलझा तो बुधवार सुबह दुल्हन के बिना ही बारात को लौटना पड़ा. अब पूरे इलाके में यही मामला चर्चा का विषय बना हुआ है.

दरअसल मंगलवार रात पिथौरागढ़ जिले के आमथल के करीब सनेती गांव में चंपावत जिले के तामली चामी गांव से कैलाश जोशी की बारात आयी हुई थी. धूलर्घ्य का कार्यक्रम अच्छी तरह से संपन्न हो चुका था. अब बारातियों के खाना खाने की बारी आयी तो दूल्हे ने अपने साथ‍ियों के साथ जमकर शराब पी ली. अंदर बैठी दुल्हन को जैसे ही इस मामले की जानकारी मिली तो वह बारातियों के बीच में आ गई और उसने साफ-साफ कह दिया कि वह इस दूल्हे से शादी नहीं करेगी.

मामला सिर्फ इतना ही नहीं है. दुल्हन के परिवार का तो यहां तक आरोप है कि शादी से पहले जो लड़का उनकी लड़की को देखने आया था वह कोई और ही था. लेकिन शादी के दिन सेहरा बांधकर दूल्हे के रूप में कोई और ही व्यक्ति आया है. इस मुद्दे को लेकर दोनों पक्षों में जमकर हंगामा भी हुआ. मामला सुलझता नहीं दिख रहा था तो ग्रामीणों ने राजस्व उपनिरीक्षक राजेंद्र भंडारी को मौके पर बुला लिया. उन्होंने लड़की को समझाने की कोश‍िश की, लेकिन लड़की इस बात से बहुत खपा थी और उसकी जिद के आगे किसी की एक नहीं चली.

आख‍िरकार बुधवार सुबह सनेती गांव से यह बारात बिना दुल्हन लिए लौट गई. बिना दुल्हन के बारात लौट आने की खबर के बाद तामली के चामी गांव में भी चर्चाओं का बाजार गर्म है. हालांकि राजस्व विभाग ने इस मामले में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की है. इलाके में अपनी तरह की यह पहली घटना है.