रातीघाट के पास एक्सीडेंट- 200 मीटर गहरी खाई में गिरी बोलेरो, दो की मौत

नैनीताल।… रातीघाट-भवाली गांव को जाने वाले कच्चे मार्ग पर एक बोलेरो गाड़ी असंतुलित होकर करीब 200 मीटर गहरी खाई में जा गिरी. हादसे में ड्राइवर सहित दो लोगों की मौत हो गई, जबकि दो अन्य लोगों को गंभीर हालत में हल्द्वानी रेफर किया गया है.

दुर्घटना हल्द्वानी-अल्मोड़ा हाईवे से कुछ दूर चौरसा इलाके में शुक्रवार देर रात हुई. बोलेरो UK 03-TA-0133 का ड्राइवर गजेंद्र राजपूत (38) निवासी चकरपुर खटीमा (उधमसिंह नगर) हल्द्वानी की ओर जा रहा था. इसी समय चौरसा गांव के घनश्याम (40) और रातीघाट के किशन राम ने पहले उन्हें गांव तक छोड़ने की सिफारिश की. इसके लिए बोलेरो बुक करायी गयी.

बोलेरो हल्द्वानी हाईवे से रातीघाट-भवाली गांव कच्चे मार्ग पर आगे बढ़ी ही थी कि असंतुलित होकर चौरसा की पहाड़ी की ओर जा पलटी. बोलेरो लगभग 200 मीटर नीचे खाई में जा गिरी. ड्राइवर गजेंद्र व घनश्याम को गहरी चोट पहुंची. दोनों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि किशन राम तथा जाहिद खान निवासी लाइन नंबर-17 वनभूलपुरा हल्द्वानी गंभीर रूप से घायल हो गए.

सूचना मिलने पर चौकी प्रभारी देवनाथ गोस्वामी मयफोर्स मौके पर पहुंचे. घायलों को आपातकालीन 108 सेवा से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शील अस्पताल पहुंचाया गया. फर्ट एड के बाद हालत नाजुक देख डॉक्टरों ने दोनों को हल्द्वानी रेफर कर दिया. उधर शवों को पोस्टमार्टम के लिए नैनीताल भेज दिया गया है.

एक-एक लाख रुपये मुआवजे की घोषणा
मुख्यमंत्री ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को एक लाख जबकि घायलों को 50-50 हजार की आर्थिक मदद की घोषणा की है. साथ ही गहरी शोक संवेदना भी प्रकट की है. विधायक नैनीताल सरिता आर्या ने सीएम के हवाले से कहा कि शीघ्र आर्थिक मदद मुहैया करा दी जाएगी.